Home जिले जल स्तर की चिंता को लेकर निगम करा रहा कार्यशाला, ठोस कार्य...

जल स्तर की चिंता को लेकर निगम करा रहा कार्यशाला, ठोस कार्य योजना नहीं बनने से लोग परेशान

उपेंद्र त्रिपाठी@बिलासपुर. रेन वाटर हार्वेस्टिंग को लेकर नगर पालिक निगम काफी सक्रियता दिखा रहा है। इसके लिए कार्यशाला आयोजित की जा रही है। निगम के इंजीनियर और कर्मियों को प्रशिक्षण देने के लिए विशेषज्ञ के रूप में वाटर हार्वेस्टिंग विशेषज्ञ एवं भिलाई नगर निगम के वाटर हार्वेस्टिंग के नोडल अधिकारी मधुर चितलांगया और रायपुर के […]

69
bilaspur nigam

उपेंद्र त्रिपाठी@बिलासपुर. रेन वाटर हार्वेस्टिंग को लेकर नगर पालिक निगम काफी सक्रियता दिखा रहा है। इसके लिए कार्यशाला आयोजित की जा रही है। निगम के इंजीनियर और कर्मियों को प्रशिक्षण देने के लिए विशेषज्ञ के रूप में वाटर हार्वेस्टिंग विशेषज्ञ एवं भिलाई नगर निगम के वाटर हार्वेस्टिंग के नोडल अधिकारी मधुर चितलांगया और रायपुर के भू वैज्ञानिक के पाणिग्रही को बुलाया गया।

इस दौरान निगम के इंजीनियर और कर्मियों को वाटर हार्वेस्टिंग की बारिकियों को समझाया गया। हर साल इस तरह की कोशिशें होती रहती हैं। लेकिन वाटर हार्वेस्टिंग के नियमों के लचर क्रियान्वयन से बिलासपुर शहर में क्या पूरे प्रदेश में दिनों दिन जल स्तर गिर गया है। निगम कमिश्नर प्रभाकर पांडे के निर्देश पर निगम द्वारा शहर में प्रतिदिन 40 वाटर हार्वेस्टिंग का लक्ष्य रखा गया है।

bilaspur nagar nigam

लेकिन आयुक्त प्रभाकर पांडेय की माने तो किसी भी 1200 स्क्वेयर फीट से अधिक भवनों और घरों में वाटर हार्वेस्टिंग करने का नियम है। इस हार्वेस्टिंग के लिए नगर निगम निर्माण के समय जमा करा लेता है। लेकिन यह काम नहीं हो पाया है। इन नियमों के मानने वालों की संख्या भी मुठ्ठी भर ही होगी। निगम प्रशासन केवल कार्ययोजना बनाने और फंड को उपयोग करने तक सीमित है। निगम को जल स्तर को बढ़ाने के लिए ठोस कार्ययोजना बनाने के साथ ही नियमों को ताक में रखने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने को आवश्कता है।