छत्तीसगढ़

भ्रष्टाचारियों की सुनवाई में कांग्रेस सरकार ने कोर्ट छावनी क्यों बनाया: भाजपा

रायपुर। भाजपा के रायपुर संभाग प्रभारी व विधायक सौरभ सिंह ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी द्वारा गिरफ्तार, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की डिप्टी सेक्रेटरी सौम्या चौरसिया की अदालत में रिमांड सुनवाई के दौरान मीडिया को रोके जाने पर कड़ी आपत्ति व्यक्त करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को भ्रष्टाचारियों से इतनी हमदर्दी है कि वे भ्रष्टाचार के आरोपियों को संरक्षण देते हुए मीडिया पर अंकुश लगा रहें है वे मीडिया की स्वतंत्रता का हरण कर रहे हैं। मीडिया पर अघोषित आपातकाल लगा रहे हैं। ऐसा करके वे समाज को क्या संदेश देना चाहते हैं?

प्रदेश भाजपा के रायपुर संभाग प्रभारी व विधायक सौरभ सिंह ने कहा कि ईडी ने तथ्यों के आधार पर भ्रष्टाचार के आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिनमें मुख्यमंत्री की डिप्टी सेक्रेटरी सौम्या भी शामिल हैं। जब रिमांड अवधि बीतने पर ईडी ने आरोपी को अदालत में पेश किया तो राज्य सरकार ने अदालत परिसर को छावनी में तब्दील कर मीडिया को रोका। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को उनकी डिप्टी सेक्रेटरी की गिरफ्तारी पर नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए था, राजधर्म निभाने की बजाय भ्रष्टाचारियों के बचाव में लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को अपना काम करने से रोककर वे लोकतंत्र की हत्या कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: