छत्तीसगढ़क्राईमदुर्ग

Video: पुलिस ने निकाला हत्यारों का जुलूस, लगवाई उठक-बैठक

अनिल गुप्ता@दुर्ग. दो दिन पहले भिलाई के केम्प 1 स्थित साईं नगर में हुए मर्डर का खुलासा पुलिस ने कर दिया है, आपसी रंजिश के के चलते युवक की हत्या आठ आरोपियों ने मिलकर की थी। योजना बनाकर बेस बल्ला व चाकू से घातक चोट पहुंचाकर फिल्मी स्टाईल में आरोपियों ने घटना को अंजाम दिया था। गिरफ्तारी से बचने लगातार पुलिस को चकमा देते रहे, आखिरकार पुलिस ने इन सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन मास्टरमाइंड और भाजपा नेता लोकेश पांडे अभी भी फरार है। आज दुर्ग पुलिस ने आरोपियों को शहर में घुमाकर उनका जुलूस भी निकाला साथ ही उनसे उठक बैठक लगवाकर क्षेत्र में उनके द्वारा पैदा किये गए दहशत के माहौल को भी कम करने का प्रयास किया

भिलाई में हुए 20 साल के युवक की हत्या करने वाले आरोपियों को दुर्ग पुलिस ने गिरफ्तार किया, खुलासा करते हुए एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने कहा कि मृतक रंजीत सिंह को पुरानी रंजीश की वजह से गाली गलौच कर मारपीट करने लगे, विरोध करने पर सभी एक रॉय होकर बेस बल्ला, धारदार हथियार एवं हाथ मुक्का से हमला कर दिया, प्रार्थी जान बचाकर भागा किन्तु उसके साथी मृतक रंजीत सिंह की टिप्पू, सोना, चिंकू एवं अन्य साथीयों के द्वारा हत्या कर दी गयी। आरोपियों यह तलाश में 03 अलग-अलग टीमें लगायी गयी थी। घटना स्थल के आस-पास व आवागमन के मार्गों में लगे सीसीटीवी कैमरों का खंगाला गया, उसने आरोपियों की पहचान कर गया,घटना के तुरन्त बाद ही आरोपियों की पतासाजी की जा रही थी किन्तु सभी आरोपी अपने निवास व संभावित ठिकानों से फरार हो गये थे। जिससे तकनीकी आधार पर भी आरोपियों की पतासाजी के साथ-साथ विशेष सूत्र भी लगाये गये थे। आरोपियों के छिपने के रायपुर व राजनांदगांव स्थित संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही थी, इसी क्रम में विशेष सूत्रों से पता चला की प्रकरण के आरोपी सोना उर्फ जोश अब्राहम, अमन उर्फ टिम्पू, बिसेलाल उर्फ छोटू, भूपेन्द्र साहू एवं पिन्टू सिंह दो मोटर सायकल में राजनांदगांव की तरफ भागे है और अपने रिस्तेदारों के घरों में छीपने की संभावना है। जिससे टीम द्वारा सूचना की तकनीकी रूप से पुष्टि उपरांत दबिश देकर उपरोक्त आरोपियों को जालबांधा राजनांदगांव में एक रिश्तेदार के घर से घेराबंदी कर पकड़ा गया।

इसी क्रम में प्रकरण में फरार अन्य आरोपी निखिल साहू की उपस्थिति ग्राम रसमड़ा में सुनिश्चित होने पर उसे भी घेराबंदी कर रसमड़ा में पकड़ा गया। उपरोक्त आरोपियों से पृथक-पृथक पूछताछ करने पर अमन एवं मृतक रंजीत सिंह के बीच कुछ दिनों पूर्व आपसी विवाद होने से आपस में रंजीश रखना, रंजीत सिंह के द्वारा अमन को मारने की धमकी देना जिससे आक्रोशित होकर अपने साथियों लोकेश पाण्डेय, सोना उर्फ जोश अब्राहम, अमन उर्फ टिम्पू, बिसेलाल उर्फ छोटू, भूपेन्द्र साहू, पिन्टू सिंह, चिकू उर्फ निखिल एंजल एवं निखिल साहू के साथ मिलकर लोकेश पाण्डेय के दुकान में बैठकर रंजीत सिंह की हत्त्या करने की योजना बनाना तथा घटना दिनांक को सांई नगर, हनुमान मंदिर के पास मृतक रंजीत को अपने साथी शुभदीप सिंह व पीटर के साथ बैठे होने की सूचना मिलने पर सभी लोकेश पाण्डेय की फॉरच्यूनर कार तथा मोटर साइकलों में बेस बल्ला, चाकू आदि रखकर सांई नगर हनुमान मंदिर के पास जाकर रंजीत सिंह, शुभदीप व पीटर को हाथ मुक्का व बेस बल्ले से मारपीट करना, मारपीट के दौर शुभदीप व पीटर का भाग जाना, जिसके बाद रंजीत सिंह को झूले के पास से स्ट्रीट लाईट के पोल के पास लाकर हाथ मुक्का लात, बेस बल्ला व चाकू से घातक चोट पहुंचाकर हत्या कर देना बताया।

आरोपियों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त बेस बॉल का बल्ला व धारदार कटारनूमा चाकू तथा घटना में प्रयुक्त मोटर सायकल बरामद कर जप्त किया गया है। फरार आरोपी भाजपा नेता लोकेश पाण्डेय व चिकू पतासाजी की जा रही है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: