Home जिले क्या बात !…… सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर इस गांव ने पेश...

क्या बात !…… सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर इस गांव ने पेश की जागरूकता की मिसाल….तो इधर कोरोना से लड़ने महिलाएं कर रही ये काम…..

रायपुर । कोविड-19 को लेकर की जा रही सोशल डिस्टेंसिंग में ग्रामवासियों की सतर्कता अपने आप में एक मिसाल बन रही है। ग्रामवासी अपने तरीकों से कोरोना वायरस को गाँव से दूर रखने का प्रयास कर रहे हैं। ग्राम कुर्रू में 12 मार्च को बाहर से एक व्यक्ति रिश्तेदारी मिलकर आया था । ग्रामवासियों ने […]

रायपुर । कोविड-19 को लेकर की जा रही सोशल डिस्टेंसिंग में ग्रामवासियों की सतर्कता अपने आप में एक मिसाल बन रही है। ग्रामवासी अपने तरीकों से कोरोना वायरस को गाँव से दूर रखने का प्रयास कर रहे हैं।

ग्राम कुर्रू में 12 मार्च को बाहर से एक व्यक्ति रिश्तेदारी मिलकर आया था । ग्रामवासियों ने उसकी जांच कराकर होम क्वॉरेंटाइन में रखा है। उससे नियमित संपर्क किया जा रहा है लेकिन नियमों के अनुसार । ग्राम के सामाजिक भवन और स्कूल के कमरों को भी बाहर से आने वालों के लिए क्वॉरेंटाइन करने के आरक्षित कर दिया गया है। ताकि ग्राम वासियों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े । ग्रामवासी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं । बच्चों को विशेष रूप से एक दूसरे से मिलने से रोका गया है । घर में ही बच्चे परम्परागत खेलों के साथ उनका मनोरंजन किया जा रहा है ।

ग्राम पंचायत कुर्रू के सरपंच रामदीन यादव ने बताया देश के प्रधानमंत्री ने 25 मार्च से 14 अप्रैल तक जो लॉक डाउन किया है। उसके तहत ग्राम स्तर पर भी तैयारी की गई। जिसमें सामूहिक कार्यक्रमों बाहरी व्यक्तियों के साथ संपर्क और हाट बाजार को भी बंद किया गया है । किराना की दुकानों को सुबह ( 7 से 10 बजे ) 3 घंटे और शाम को (5 से 8) 3 घंटे खोलने का निर्णय समस्त ग्रामवासियों और पंचों के साथ मिल कर लिया गया है ।
ग्राम स्तर पर ही स्थानीय दर्ज़ी और ग्राम की महिलाएं की मदद से मास्क बनाने का काम किया। जिससें कोविड-19 से ग्राम को सुरक्षित किया जा सके । साथ ही धारा 144 का पालन पूर्ण रूप से करने के लिए ग्रामवासियों को घर-घर जाकर समझाइश भी दी गई है।

ग्राम स्तर पर लोगों को जागरूक किया जा रहा है कि वह घर में भी सामान्य मास्क को लगाकर या मुंह ढककर रहे । साबुन से नियमित हाथ धोते रहें । विशेष रुप से बोरिंग या हैंडपंप के आसपास 6 फीट की दूरी पर गोल घेरा बनाया गया है । एक व्यक्ति का कार्य पूर्ण होने पर दूसरा व्यक्ति आगे बढ़ता है । यही कार्य शासकीय उचित मूल्य की दुकानों पर भी किया गया है , जिसमें ग्राम वासियों का भरपूर सहयोग मिल रहा है । ग्राम सभा के साथ-साथ बड़े आयोजनों पर भी स्थानीय स्तर पर रोक लगा दी गई है ।