Home क्राईम लॉकडाउन का फायदा उठाकर चाचा को उतारा मौत के घाट….मगर नहीं आई...

लॉकडाउन का फायदा उठाकर चाचा को उतारा मौत के घाट….मगर नहीं आई चालाकी काम..अब

कोण्डागांव. लॉकडाउन का फायदा उठाते हुए छत्तीसगढ़ के कोण्डागांव जिले में एक भतीजे ने अपने चाचा की हत्या कर दी. लाश को गांव के बाहर जंगल में छिपा दिया था. लेकिन आरोपी की चालाकी काम नहीं आई. जंगल गई महिलाओं ने लाश देख लिया. बाकी हत्यारे के घर के पीछे बने सेप्टिक टैंक से निकली […]

लॉकडाउन का फायदा उठाकर चाचा को उतारा मौत के घाट….मगर नहीं आई चालाकी काम..अब

कोण्डागांव. लॉकडाउन का फायदा उठाते हुए छत्तीसगढ़ के कोण्डागांव जिले में एक भतीजे ने अपने चाचा की हत्या कर दी. लाश को गांव के बाहर जंगल में छिपा दिया था. लेकिन आरोपी की चालाकी काम नहीं आई. जंगल गई महिलाओं ने लाश देख लिया. बाकी हत्यारे के घर के पीछे बने सेप्टिक टैंक से निकली हत्यारी लाठी ने रही सही कसर पूरी कर दी.

कोंडागांव ब्लॉक के पल्ली गांव में मृतक बोड़कु उर्फ बोचा राम और उसके भतीजे हीरा सिंह के बीच जमीन विवाद चल रहा था. आरोपी की पत्नी और बच्चे घर पर नहीं थे. इस दौरान उसे अपने चाचा के मर्डर का प्लान तैयार किया.

सुबह जब जंगल में महुआ बीनने गए महिलाएं जगल में गई, तब उन्होंने लाश देखा. सूचना पर जंगल पहुंचे ग्रामीणों ने मृतक की पहचान छिंदभाटा गांव निवासी बोन्डकु मरकाम के रूप में की. लाश देखकर गांव वालों के बीच सुगबुगाहट चालू हो गई. फिर लोगों ने सिटी कोतवाली कोंडागांव में सूचना दी. सूचना मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक बालाजी राव ने तुरंत एसडीओपी कपिल चंद्रा, टीआई राजेन्द्र मंडावी, एसआई मनोज नायक, एसआई विवेक सेंगर एवं अन्य स्टाप को तत्काल जांच करने भेजा.