सूरजपुर

Surajpur: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ का एक दिवसीय धरना प्रदर्शन, फिर पीएम और कलेक्टर के नाम सौंपा ज्ञापन, जानिए सहायिका संघ की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने क्या कहा

अंकित सोनी@सूरजपुर। (Surajpur) जिले में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर बुधवार को एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया।  इस दौरान पहले स्थानीय रंगमंच में धरना दिया गया। जिसके बाद रैली के रूप में सभी कार्यकर्ताएं तहसील कार्यालय पहुंच प्रशासन को अपनी मांगों के संबंध में प्रधानमंत्री व कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान भारतीय मजदूर संघ ने भी कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ की राष्ट्रीय अध्यक्ष भी मौजूद रही।

(Surajpur) मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि जितनी भी सरकार की महत्वकांक्षी योजनाएं हैं उन सभी में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की ड्यूटी लगाई जाती है, लेकिन अभी तक उन्हें शासकीय कर्मचारी का दर्जा नहीं दिया गया है। इस महंगाई के दौर में भी उनका मानदेय बहुत कम होने के कारण उनको परिवार चलाने में परेशानी हो रही है।

Gujarat: गुरुवार को शपथ लेंगे नए मंत्री, 1.30 बजे होगा शपथ ग्रहण समारोह

बच्चों को सुपोषित करते हुए सरकार की अनदेखी के कारण आज कार्यकर्ताएं कुपोषित हो जा रही है, इसलिए जरूरी है कि सरकार सभी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं को सरकारी कर्मचारी घोषित करें। इसके साथ ही भारत सरकार के निर्धारित न्यूनतम वेतन कार्यकर्ता को 18 हजार व सहायिका को 9 हजार रुपये दिया जाए।

Ambikapur: ई–कॉमर्स के विरोध में व्यापारियों का प्रदर्शन, एक महीने तक देशव्यापी हल्ला बोल अभियान शुरू

(Surajpur) राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के तहत सभी आंगनबाड़ी केंद्रों को भी प्राथमिक पाठशाला की मान्यता भी दी जाए। वहीँ भारतीय मज़दूर संघ ने खाद्यान्न व पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि के खिलाफ ज्ञापन सौंप बढ़ी हुई मूल्यों को कम करने के लिए नायब तहसीदार को ज्ञापन सौंपा है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: