Home जिले एसडीएम और जनपद सीईओ को ग्रामीणों ने सौंपा ज्ञापन, 17 जून को...

एसडीएम और जनपद सीईओ को ग्रामीणों ने सौंपा ज्ञापन, 17 जून को चक्काजाम करने दी चेतावनी

लोरमी. यहां के ग्रामीणों द्वारा लोकसभा चुनाव का बहिष्कार किया गया था। ग्रामीण अपनी मूलभूत समस्याओं के पूरे न होने पर मतदान का बहिष्कार कर रहे थे। एसे में मामले को लेकर जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया था। एसडीएम और जनपद सीईओ ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास भी किया था लेकिन वे सफल […]

133
gyapan

लोरमी. यहां के ग्रामीणों द्वारा लोकसभा चुनाव का बहिष्कार किया गया था। ग्रामीण अपनी मूलभूत समस्याओं के पूरे न होने पर मतदान का बहिष्कार कर रहे थे। एसे में मामले को लेकर जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया था।

एसडीएम और जनपद सीईओ ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास भी किया था लेकिन वे सफल नही हो पाए थे जिसके बाद मतदान कराने जिसके बाद जिला पंचायत सीईओ लोकेश चंद्राकर डुमरहा गांव पहुँचे जहां उन्होंने ग्रामीणों की मांगों को एक हफ्ते के भीतर पूरा कराने का लिखित आश्वासन दिया था।

आश्वासन मिलने के बाद ग्रामीणों ने मतदान में हिस्सा लिया था। लेकिन आज तक आश्वासन देने के बावजूद काम नहीं होने पर एसडीएम और जनपद सीईओ को ग्रामीणों ने ज्ञापन सौंपा है, और मांगे पूरी नहीं होने पर 17 जून को लोरमी पंडरिया मुख्य मार्ग पर चक्काजाम करने की चेतावनी दी है।

आपको बता दें डुमरहा गांव जो कि खपरीकला का आश्रित ग्राम है यहां के लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए पिछले पांच सालों से तरस रहे है वहीं ग्राम खपरीकला में सारी मूलभूत सुविधाएं सरपंच सचिव के द्वारा कराई गई है लेकिन डुमरहा के ग्रामीणों के साथ भेदभाव किया गया।

मामले में जनपद सीईओ एल के कौशिक ने बताया कि ग्राम डुमरहा के ग्रामीणों की मांग जायज है चूंकि आचार संहिता होने के कारण काम नहीं हो पाया था लेकिन अब आचार संहिता हट गई है जल्द ही उनकी मांगों को पूरा किया जाएगा।