राजनीति

Punjab में मुख्यमंत्री बनाने पर फंसा पेंच, अंबिका सोनी ने सीएम बनने से किया इंकार….बताया ये कारण

नई दिल्ली। (Punjab) कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद अब सीएम की कुर्सी को लेकर अटकले तेज हो गई है. कांग्रेस आलाकमान अंबिका सोनी को पंजाब की कुर्सी सौंपना चाहता है. लेकिन अंबिका सोनी ने सीएम बनने से इंकार कर दिया है. बता दें कि अंबिका सोनी 50 सालों से राजनीति में हैं.

 दरअसल, कैप्टन अमरिंदर के इस्तीफे के बाद दो नाम सबसे आगे चल रहे थे. इनमें एक नाम था अंबिका सोनी

अंबिका सोनी ने बताया ये कारण

(Punjab) सूत्रों ने बताया कि अंबिका सोनी ने कांग्रेस आलाकमान को मुख्यमंत्री बनने से ये कहते हुए इनकार कर दिया है कि वो इस वक्त मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहतीं. अंबिका सोनी खत्री हिंदू हैं और उन्होंने सिख को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही है. उनका कहना है कि पंजाब में सिख नहीं होगा तो और कौन होगा. अंबिका सोनी ने ये भी कहा है कि वो पार्टी की लॉयल हैं और सम्मान करती हैं, लेकिन वो मुख्यमंत्री पद नहीं संभालना चाहतीं.

सीनियर नेता बार-बार अंबिका सोनी को सीएम की कुर्सी संभालने के लिए कर रहे प्रेरित

बताया ये भी जा रहा है कि पार्टी के सीनियर नेताओं ने अंबिका सोनी को सीएम पद संभालने के लिए बार-बार कहा. उनसे कहा गया कि उनके नाम पर आसानी से सहमति बन जाएगी, लेकिन अंबिका सोनी ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया. फिलहाल अंबिका सोनी दिल्ली में ही हैं और चंडीगढ़ नहीं जा रही हैं.

जाब में सिद्धू कैंप और कैप्टन कैंप के बीच बैलेंस कर सकती है स्थापित

कैप्टन अमरिंदर ने भले ही इस्तीफा दे दिया है, लेकिन अभी भी पंजाब कांग्रेस में जारी तनाव कम होता दिखाई नहीं दे रहा है. ऐसे में अंबिका सोनी सबसे सटीक नाम थी. माना जाता है कि अंबिका पंजाब में सिद्धू कैंप और कैप्टन कैंप के बीच बैलेंस स्थापित करने में भी कामयाब रहतीं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: