क्राईम

Sarguja: पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी, मृतिका का प्रेमी ही निकला कातिल, आरोपी गिरफ्तार

शिव शंकर साहनी @सरगुजा। (Sarguja) पुलिस इन दिनों अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने की वजह से सुर्खियों में बनी हुई है. इसी कड़ी में सरगुजा जिले की दरिमा पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है.

जहां पुलिस की टीम ने एक और अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाया है..इस मामले में पुलिस ने मृतिका के प्रेमी को गिरफ्तार किया है.

सरगुजा जिले के दरिमा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम रकेली खाई से एक अज्ञात महिला के शव को अर्ध्यजली  हालत में पुलिस की टीम ने बरमाद किया था. (Sarguja) पीएम रिपोर्ट आने के बाद खुलासा हुआ कि महिला की किसी अज्ञात व्यक्ति ने गला दबाकर पहले हत्या की फिर शिनाख्त छुपाने के लिए उसके शव को जलाल दिया..इसके बाद पुलिस की टीम अज्ञात आरोपी के खिलाफ हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर मामले की जांच में जुट गई.

(Sarguja) इधर अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाने के लिए पुलिस अधीक्षक अमित तुकाराम कंबाले ने विशेष टीम का गठन किया..इसके बाद पुलिस ने हर दिशा में जांच शुरू की.

विवेचना के दौरान पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती मृतका की शिनाख्ती थी। इस चुनौती को सरगुजा पुलिस में स्वीकार करते हुए जांच को आगे बढ़ाएं और लगभग सैकड़ों गुम इंसान की तस्दीक की गई.. यही नहीं पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के लिए लगभग सैकड़ों सीसीटीवी फुटेज खंगाले और इस कार्य के लिए पुलिस को 700 घंटे से ऊपर का वक्त लगा..लेकिन पुलिस पूरी धैर्य के साथ अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाने के लिए लगी रही..इसी बीच घटनास्थल से बरामद हुए मृतका के चप्पल,कपड़े और शिव की मूर्ति के जरिये पुलिस मृतिका के घर तक पहुंच गई..जब पुलिस ने बरामद समान को मृतका के परिजनों को दिखाया तो उन्होंने मृतिका की शिनाख्ती की..मृतिका दीक्षा सिंह बलरामपुर जिले के राजपुर की रहने वाली थी..इधर मृतका की शिनाख्ती होने के बाद पुलिस ने अपनी जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि राजपुर में वह एक मोटरसाइकिल के शोरूम में काम करती थी..वही शोरूम में कार्यरत अशोक कौशिक से उसका प्रेम संबंध था.

पुलिस को जब इस मामले की जानकारी लगी तो पुलिस ने अशोक कौशिक को हिरासत में लेकर पूछताछ किया..पूछताछ के दौरान आरोपी ने प्रेमिका की हत्या करने का गुनाह स्वीकार किया..उसने बताया कि उसकी प्रेमिका पहले से शादीशुदा थी और वह उससे शादी करना चाहती है..लेकिन आरोपी नहीं चाहता था कि उसकी शादी मृतिका से हो..वही प्रेमिका को शादी से मना करने पर वह थाने में एफआईआर दर्ज कराने की धमकी देती थी..कानूनी पेच में फंसने के डर से आरोपी ने अपनी प्रेमिका को 25 अक्टूबर की रात गला दबाकर मौत के घाट उतार दिया.. फिलहाल इस मामले में पुलिस आरोपी के खिलाफ हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर उसे न्यायिक रिमांड में पेश करने के बाद जेल दाखिल कर दी है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: