Home जिले रायपुर रमन सरकार में 1000 करोड़ के घोटाले पर भाजपा के बचाव से...

रमन सरकार में 1000 करोड़ के घोटाले पर भाजपा के बचाव से सबकुछ स्पष्ट: कांग्रेस

रायपुर। 1000 करोड़ के घोटाले पर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा है कि इस मामले में भाजपा के बचाव से सबकुछ स्पष्ट हो गया। भाजपा के शासनकाल में घोटाला हुआ, भाजपा के शासनकाल में फर्जीवाड़ा हुआ। प्रदेश की भाजपा सरकार में मंत्री रही और वर्तमान में केन्द्र सरकार के मंत्री रेणुका […]

मंत्री अनिला भेड़िया की माता नेकिन बाई नायक के निधन पर कांग्रेस ने दी श्रद्धांजलि

रायपुर। 1000 करोड़ के घोटाले पर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा है कि इस मामले में भाजपा के बचाव से सबकुछ स्पष्ट हो गया। भाजपा के शासनकाल में घोटाला हुआ, भाजपा के शासनकाल में फर्जीवाड़ा हुआ। प्रदेश की भाजपा सरकार में मंत्री रही और वर्तमान में केन्द्र सरकार के मंत्री रेणुका सिंह की भी जिम्मेदारी है।

इस मामले में माननीय उच्च न्यायालय ने सीबीआई को एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिये है। एफआईआर दर्ज भी की जा चुकी है। भाजपा की वर्तमान में केन्द्रीय मंत्री और उस समय की मंत्री और उनके बचाव में कूद गये डॉ. रमन सिंह जी। रमन सिंह जी मंत्री मंडल की सामूहिक जिम्मेदारी के सिद्धांत के तहत रेणुका सिंह के सहआरोपी है इस घोटाले में। रमन सिंह सरकार की गड़बड़ीयों को छिपाने के लिये, भाजपा के भ्रष्टाचार को दबाने के लिये, भाजपा द्वारा कांग्रेस पर आरोप लगाना उल्टा चोर कोतवाल को डांटे की कहावत को चरितार्थ करता है।

गड़बड़ी, घोटाला हो भाजपा के शासनकाल में जिम्मेदार हम कैसे है, भारतीय जनता पार्टी एक सवाल का जवाब दें दें। कोर्ट ने जो आदेश दिये है, आदलत के आदेशों का शत प्रतिशत पालन हो रहा है, सीबीआई ने उसमें कार्यवाही कर रही है और सीबीआई के एफआईआर दर्ज होने के बाद सरकार समूचित समय में संज्ञान लेकर के कार्यवाही करेगी।

जिस भारतीय जनता पार्टी के लोग हर घोटाले, हर भ्रष्टाचार जीरम जैसे मामले की जांच को दबाने के लिये जी-जान लगा दिये है वो भारतीय जनता पार्टी इस मामले में बड़ी-बड़ी बाते न करें। सूपा बाले तो बोले, चलनी भी बोले, जिसमें 72 छेद जिस भारतीय जनता पार्टी का 15 वर्ष का शासनकाल घोटालों, भ्रष्टाचार, कमीशनखोरी से भरा हुआ है वो हमें शिक्षा न दें। पहले 1000 करोड़ के घोटाले में अपने गरेबान में झांक के तो देखे भारतीय जनता पार्टी।