रायपुर

Raipur: 4 दिनों की रिमांड पर निलंबित IPS अधिकारी जीपी सिंह, पुलिस ने कोर्ट में कहा- जांच में सहयोग नहीं कर रहे

रायपुर। निलंबित आईपीएस अधिकारी जीपी सिंह को 4 दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। दो दिनों की रिमांड खत्म होने के बाद जीपी सिंह को आज शाम लीना अग्रवाल की कोर्ट में पेश किया गया था। इस दौरान पुलिस का कहना है कि जीपी सिंह जांच में सहयोग नहीं कर रही है। पुलिस ने कोर्ट से जीपी सिंह की 5 दिन की डिमांड मांगी थी। लेकिन अब उन्हें 4 दिन यानी कि 18 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।

Dhamtari: 7 साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म, बहला फुसला कर ले गया था अपने साथ, आरोपी पुलिस की गिरफ्त में….

ये पॉलिटिकल विक्टमाइजेशन का केस: जीपी सिंह

अदालत से बाहर आते हुए जीपी सिंह ने कहा ये पॉलिटिकल विक्टमाइजेशन का केस है , मैं शुरू से कह रहा हूं। नागरिक आपूर्ति निगम की जांच कर रहा था तब गवाहों को हॉस्टाइल करने कहा गया, इस मामले में रमन सिंह और वीणा सिंह को फंसाने का दबाव बनाया गया। रमन सिंह प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हैं और वीणा सिंह उनकी पत्नी)। जांच में सहयोग न करने के सवाल पर जीपी सिंह ने कहा मैंने खुद कहा है, रिमांड जितनी चाहिए ले लो, और 15 दिन चाहते हैं तो ले लो।

Ambikapur: चिकित्सक ने किया होम आइसोलेशन का उल्लंघन, एपिडेमिक एक्ट के तहत कार्रवाई की अनुशंसा

जानिए क्या है पूरा मामला

पिछले साल 1 जुलाई की सुबह 6 बजे ACB-EOW की टीमों ने रायपुर, राजनांदगांव और ओडिशा में एक साथ छापा मारा गया। जीपी सिंह पर FIR दर्ज की गई। दूसरे दिन शुक्रवार को दिन भर की जांच के बाद 5 करोड़ की चल-अचल संपत्ति का खुलासा हुआ था। 10 करोड़ की संपत्ति मिलने और इसके बढ़ने की आधिकारिक जानकारी दी गई। इन तमाम मामलों के बीच 5 जुलाई को राज्य सरकार ने ADG जीपी सिंह को एक आदेश पत्र में यह लिखते हुए निलंबित कर दिया कि एक अफसर से ऐसी अपेक्षा नहीं थी।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: