छत्तीसगढ़

Raipur: पूर्व विधायक भैयाराम सिन्हा और उसके साथी दोषमुक्त, जानिए क्या है पूरा मामला

रायपुर।  (Raipur) पूर्व विधायक भैयाराम सिन्हा और उसके साथी दोषमुक्त हो चुके हैं। जानकारी के अनुसार 6 अक्टूबर 2014 को देश के प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा महिलाओं पर आपत्तिजनक बयान देने से नाराज भारतीय राष्टीय कांग्रेस पार्टी के द्वारा राष्ट्र व्यापी बंद कर आवाहन पर बालोद में भी विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था।

इसी दरमियान तय समय मे फौव्हारा चौक में पुतला दहन किया जा रहा था। बालोद थाना के आरक्षक ने पुतले में पानी डाल दिया। (Raipur)जिसका विरोध करने पर भारी मात्रा में पुलिस बल बुलाकर तत्कालीन विधायक भैयाराम सिन्हा, हलधर साहू, योगराज भारती और सुनील सोनी के साथ मे वाद विवाद कर धक्का मुक्की किया गया था, और बाद में इन्ही लोगो के ही विरुद्ध उक्त पुलिसकर्मी के साथ गालीगलौच कर मारपीट कर शासकीय कार्य मे बाधा पहुँचने का आरोप लगा कर, धारा 294, 323, 353, 506, 34 ipc के तहत बालोद थाना में रिपोर्ट दर्ज किया गया था।

छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण की दिशा में देश में अव्वल,मुख्यमंत्री के नेतृत्व में मिली सफलता,वायु में हानिकारक गैसों में आई कमी

(Raipur)आरोपीगण के अधिवक्ता भेषकुमार साहू के द्वारा लगाए गए उक्त आरोप का बचाव करते हुए, न्यायसंगत बहस किया था, जिस पर आज दिनांक को विद्यावान मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्यामवती मराबी बालोद के द्वारा निर्णय पारित करते हुए पुलिस के द्वारा लगाए गए आरोप से दोषमुक्त करने का आदेश पारित की है।

कांग्रेस के पूर्व विधायक और पदाधिकरियों के दोषमुक्ति पर बालोद जिला कांग्रेस कमेटी ने सत्य और न्याय की जीत बताते हुए, खुशियां मनाये और अधिवक्ता को बधाई व शुभकामनाएं दी है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: