रायपुर

Raipur: धर्मांतरण के खिलाफ बीजेपी के प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस का पलटवार, कहा- धर्मांतरण के नाम पर सामाजिक सौहार्द बिगाड़ना चाहती है भाजपा

रायपुर। (Raipur) प्रदेश में धर्मांतरण के नाम पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदर्शन को लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी वरिष्ठ प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने तीखा पलटवार करते हुए कहा कि, आदिवासी बहुल क्षेत्र में जनता से पूरी तरह नकारे जाने के बाद भाजपा अपनी बांटने-काटने की पुरानी नीति को आजमाने का कुत्सित प्रयास कर रही है।

(Raipur) प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने कहा कि, छत्तीसगढ़ में दबाव पूर्वक धर्मांतरण का एक भी मामला,शिकायत दर्ज नही है। (Raipur) जबरिया धर्मांतरण के संदर्भ में छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण से पूर्व ही कानून प्रभावशील है, भूपेश सरकार जबरिया या प्रलोभन से धर्मांतरण के खिलाफ कठोर कार्यवाही करने प्रतिबद्ध है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने कहा कि, संवेदनशील भूपेश सरकार में कानून का राज है। प्रदेश भाजपा मुद्दा विहीन हो चली है। भाजपाई, सत्ता लोलुपता में अमन-चैन, भाईचारे के प्रदेश को धर्मांतरण के नाम पर झूठ बोल सामाजिक समरसता बिगाड़ना चाहती हैं।

तिवारी ने कहा कि, भाजपा रमन सिंह के 15 साल के कुशासन में भाजपाई न केवल आदिवासी जनता से वादाखिलाफी करते रहे बल्कि पत्थलगढी जैसे सामाजिक, सांस्कृतिक परंपरा को भी रमन सरकार के इशारे पर धर्मांतरण से जोड़कर कुचला गया। पांचवी अनुसूची के क्षेत्रों में संविधान द्वारा प्रदत्त अधिकारों से वंचित किया जाता रहा। सारकेगुडा, एडसमेटा, पेद्दागेलूर के फर्जी एनकाउंटर, मीना खालको और मडकम हिडमे के प्रकरण रमन सरकार के प्रशासनिक आतंकवाद और बर्बरता के प्रमाण है। ढाई वर्षो में कांग्रेस भूपेश सरकार के जनहितकारी फैसलों ने प्रदेश भाजपाइयों की नींद उड़ा दी है, मुद्दा विहीन हो चुके भाजपाई इस तरह के अनर्गल आरोप लगा रहे है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: