छत्तीसगढ़रायगढ़

 Raigarh: जिला लघु वनोपज सहकारी संघ मर्यादित , रायगढ़ के निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए सुरेंद्र सिदार

नितिन @रायगढ़। जनजातीय लोगों की आजीविका का एक महत्वपूर्ण स्त्रोत गैर काष्ठ वनोत्पाद है , जिसे सामान्यतः लघु वनोत्पाद के नाम से भी जाना जाता है। वनवासियों के लिए इनका बहुत महत्व है। 10 करोड़ से अधिक वनवासी इन उत्पादों पर निर्भर हैं। उनकी आय का 20 से 40 प्रतिशत हिस्सा लघु वनोत्पाद से आता है। जनजातीय समुदाय के लोगों को इन वनोत्पादों के संग्रह में उनकी कठोर मेहनत का समुचित प्रतिसाद मिले, इसके लिए केंद्र और राज्य सरकारों ने विभिन्न प्रावधान किए हैं। इन्हीं में से एक राज्य वनोपज सहकारी संघ मर्यादित, रायपुर है जिसकी इकाईयां जिलेवार फैली हुई हैं। इसके अंतर्गत जिला लघु वनोपज सहकारी संघ के सदस्यों का निर्वाचन होता है। 

गौरतलब है कि सोसायटी की उपविधि क्रमांक 13 के अनुसार मंडल के सदस्यों का निर्वाचन जिला वनोपज यूनियन कार्यालय , रायगढ़ में हो चुका है। आज निर्वाचित सदस्यों ने सर्वसम्मति से सुरेंद्र सिदार को अपना अध्यक्ष चुन लिया है। अध्यक्ष के चयन की घोषणा उप मंडल अधिकारी अमिता गुप्ता ने की । नवनिर्वाचित अध्यक्ष सुरेंद्र सिदार ने अपने निर्विरोध चयन के लिए सभी सदस्यों को धन्यवाद दिया और संघ के कार्य को आगे बढ़ाने का संकल्प लिया।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: