Home जिले अन्य अदानी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड में 3,200 करोड़ रुपये का निवेश करेगा कतर...

अदानी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड में 3,200 करोड़ रुपये का निवेश करेगा कतर इन्वेलस्ट मेंट अथॉरिटी

मुंबई. अदानी ट्रांसमिशन लिमिटेड (“एटीएल”), अदाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड (“एईएमएल”) और कतर इन्वेस्टलमेंट अथॉरिटी (“क्यूएआइए”) की अनुषंगी ने एईएमएल में 25.1 प्रतिशत हिस्सेबदारी क्यूकआइए को बेचने और एईएमएल में क्यू‍आइए द्वारा शेयरधारक सबऑर्डिनेटेड डेट निवेश के लिए एक निर्णायक अनुबंध पर हस्ता क्षर किये हैं। एईएमएल में क्यूरआइए लगभग 3,200 करोड़ रुपये (लगभग 450 मिलियन […]

अदानी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड में 3,200 करोड़ रुपये का निवेश करेगा कतर इन्वेलस्ट मेंट अथॉरिटी

मुंबई. अदानी ट्रांसमिशन लिमिटेड (“एटीएल”), अदाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड (“एईएमएल”) और कतर इन्वेस्टलमेंट अथॉरिटी (“क्यूएआइए”) की अनुषंगी ने एईएमएल में 25.1 प्रतिशत हिस्सेबदारी क्यूकआइए को बेचने और एईएमएल में क्यू‍आइए द्वारा शेयरधारक सबऑर्डिनेटेड डेट निवेश के लिए एक निर्णायक अनुबंध पर हस्ता क्षर किये हैं। एईएमएल में क्यूरआइए लगभग 3,200 करोड़ रुपये (लगभग 450 मिलियन डॉलर के बराबर) का निवेश करेगा।

एईएमएल एकीकृत बिजली वितरण, पारेषण और उत्पारदन व्यागवसाय के लिए लाइसेंसधारी है जोकि फिलहाल मुंबई शहर में लगभग 400 वर्ग किलोमीटर के लाइसेंस क्षेत्र में 3 मिलियन से अधिक उपभोक्ताकओं को सेवायें देता है। मुंबई आबादी के लिहाज से दुनिया का सातवां सबसे बड़ा शहर है। एईएमएल की मुंबई में बाजार हिस्सेैदारी लाइसेंस क्षेत्र के मामले में लगभग 87 प्रतिशत और सेवा पाने वाले उपभोक्तााओं के मामले में 67 प्रतिशत और बिजली आपूर्ति के मामले में 55 प्रतिशत है।

इस लेनदेन के हिस्सेू के तौर पर, एटीएल और क्यूशआइए ने निर्णायक योजनाओं पर सहमति जताई है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि एईएमएल द्वारा आपूर्ति की जाने वाली 30 प्रतिशत से अधिक बिजली वर्ष 2023 तक सौर और पवन ऊर्जा संयंत्रों से मंगाई जाएगी। इसके अलावा, एटीएल एवं क्यूकआइए कई अन्य0 हरित पहलों पर भी राजी हुए हैं ताकि जलवायु परिवर्तन से लड़ा जा सके और एक स्थाआयी, कम कार्बन वाली अर्थव्यरवस्थाै का रुख किया जा सके।

यह लेनदेन भारत और कतर के बीच लगातार मजबूत हो रहे संबंधों और आने वाले सालों में उनके संबंधों को और विकसित करने के लिए दोनों देशों की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।

अदानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अदानी ने कहा, “हमें कतर इन्वेवस्टयमेंट अथॉरिटी के साथ इस साझेदारी पर आगे बढ़कर खुशी हो रही है। साथ मिलकर, हम मुंबई में एईएमएल के 3 मिलियन उपभोक्ता्ओं के लिए आपूर्ति की विश्व सनीयता एवं ग्राहक संतुष्टि को सुधारने की दिशा में काम करेंगे। हमें भरोसा है कि यह लेनदेन अदाणी ग्रुप की यात्रामें एक उल्लेवखनीय कदम होगा, और यह क्यू आइए के साथ दीर्घकालिक साझेदारी की शुरुआत को दर्शाता है।”

क्यू आइए के चीफ एक्जी्क्यूखटिव ऑफिसर मंसूर अल महमूद ने कहा, ”हमारा मानना है कि अदाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड भारत में श्रेणी में सर्वोत्तिम बिजली कंपनी है और इसमें वृद्धि करने का जबर्दस्तक सामर्थ्यि है। हम अदाणी ग्रुप के साथ लंबी साझेदारी के लेकर तत्पलर हैं जिनके साथ हम निवेश पर अंतर-पीढ़ी परिदृश्यि साझा करते हैं। साथ ही एईएमएल की निरंतर सफलता और स्थालयी विकास के लिए हमारा विजन भी समान हैं।”

अल महमूद ने बताया, “यह निवेश भारत में हमारे भरोसे को दर्शाता है, जिसके साथ कतर काफी मजबूत गठबंधन और शानदार संबंधों को साझा करता है।”

यह लेनदेन निवेश की सीरीज में नया है जिसे क्यूलआइए द्वारा वैश्विक स्तार पर भरोसेमंद साझीदारों के साथ विश्वनस्तकरीय आधारभूत संरचना परिसंपत्तियों में किया गया है।

यह लेनदेन 2020 की शुरुआत में पूरा होने की संभवना है और यह विनामकीय मंजूरियों की स्वीदकृति एवं पूर्ववर्ती प्रथागत स्थितियों की संतुष्टि के के अधीन है।

इस लेनदेन के लिए एसकेएन एडवायजर्स लिमिटेड वित्तीधय सलाहकार और साइरिल अमरचंद मंगलदास एटीएल और एईएमएल के कानूनी सलाहकार थे।

इस लेनदेन में क्यूनआइए के लिए जेपी मॉर्गन ने वित्तीलय सलाहकार और क्लियरी गोट्टलिएब स्टीसन एंड हैमिल्टेन एलएलपी और एजेडबी एंड पार्टनर्स ने कानूनी सलाहकार की भूमिका निभाई।