Home जिले सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक करने के हेतु रायपुर...

सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक करने के हेतु रायपुर पुलिस ने किया नया प्रयोग, अब ऑनलाइन ठगी से मिलेगी निजात

रायपुर. रायपुर पुलिस द्वारा हर बुधवार को शहर की जनता से संवाद करने शुरू किया गया फेसबुक लाइव कार्यक्रम #AskRaipurPolice की तीसरी कड़ी में लोगों को साइबर सिक्योरिटी के विषय पर जानकारी दी गई. इस फेसबुक लाइव कार्यक्रम में लोगों के सवालों एवं उन्हें इस साइबर सिक्योरिटी पर जागरूक करने के लिए उप पुलिस अधीक्षक […]

141
raipur police
raipur police

रायपुर. रायपुर पुलिस द्वारा हर बुधवार को शहर की जनता से संवाद करने शुरू किया गया फेसबुक लाइव कार्यक्रम #AskRaipurPolice की तीसरी कड़ी में लोगों को साइबर सिक्योरिटी के विषय पर जानकारी दी गई.

इस फेसबुक लाइव कार्यक्रम में लोगों के सवालों एवं उन्हें इस साइबर सिक्योरिटी पर जागरूक करने के लिए उप पुलिस अधीक्षक अभिषेक माहेश्वरी (साइबर क्राइम), सीएसपी कोतवाली डी.सी.पटेल, उप पुलिस अधीक्षक (यातायात) सतीष ठाकुर ने हिस्सा लिया.

#AskRaipurPolice कार्यक्रम के माध्यम से रायपुर पुलिस लोगों से जुड़कर अलग-अलग विषयों पर उनसे बात करती है. आज कल हर दिन नए-नए ऑनलाइन ठगी के मामले सामने आ रहे हैं, चाहे वो शहर के लोग हों या गांव के. ऑनलाइन सिस्टम से लोगों के साथ धोखा होने की घटनाएं अब आम बात हो गई है इसलिए अब सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक करने के लिए रायपुर पुलिस ने यह नया प्रयोग किया.

माहेश्वरी ने कहा कि जिस तरह से ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामले सामने आ रहे हैं, उनसे बचने के लिए सबसे पहले स्वयं में जागरूकता की आवश्यकता होती है. आपकी जरा सी सावधानी से आप इस प्रकार की घटनाओं से बच सकते हैं. आप किस ऐप का इस्तेमाल करते है, किस वैबसाइट पर जाते हैं, किसे पेमेंट करते हैं यह सबके लिए आपको थोड़ी जागरुक होने की जरूरत है.

फेसबुक लाइव के दौरान लोगों ने अपने साथ हुए विभिन्न मामलों पर पुलिस से सवाल पुछे और उनसे इसपर आगे किस तरह की सावधानी बरतने के सुझाव मांगे. #AskRaipurPolice कार्यक्रम में लोगों ने पुलिस को घटनाओं की जानकारी देने के साथ-साथ सोशल मीडिया और अन्य पोर्टल में मौजूद ऐसे फर्जी लोगों के बारे में भी बताया और उनपर कार्रवाई करने की अपील की.

कार्यक्रम के दौरान अधिकारियों ने एटीएम फ्रॉड, एटीएम क्लोनिंग, फेसबुक, वॉट्सऐप के बारे में जानकारी देते हुए इसे कैसे बचा जा सके इसके बारे में बताया.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माहेश्वरी ने कहा इंटरनेट के इस युग में जितना आसान हमारा जीवन हो गया है उतना ही आसान हमसे ठगी करना भी हो गया है क्योंकि आज पूरी दूनिया एक क्लिक में आपसे जुड़ जाती है और आप घर बैठे-बैठे अपने काम कर सकते हैं.

आप जब भी कोई ऐप को डाउनलोड करते हैं या कोई वैबसाइट पर जाते हैं तो वो आपको कुछ देते हैं, जिसे मंजूरी देने के बाद ही आप उसमें आगे बढ़ सकते हैं. आपको वहीं थोड़ी सी सावधानी बरतने की जरूरत होती है, अगर आपने बिना सोचे समझे उसे मंजूरी दे दी तो तो उनके लिए बहुत आसान हो जाता है आपकी जानकारियों को आसानी से हासिल कर सकते हैं और वो आगे जाकर आपके लिए परेशानी का सबब बन सकता है.

इसके साथ ही अधिकारियों को शहर में बढ़ते ट्रैफिक और प्रदूषण को लेकर भी सवाल किए गए जिनका जवाब देते हुए उन्होंने एक्के नंबर, सब्बो बर 112 के बारे में जानकारी दी और कोई भी घटना होने पर त्वरित इस पर सूचित करने की अपील की.