Home क्राईम रात में लापता हुई मासूम, पुलिस ने खोजबीन करने के बजाय परिजनों...

रात में लापता हुई मासूम, पुलिस ने खोजबीन करने के बजाय परिजनों को चाय नाश्ते का दिया फरमान.. सुबह मिली लाश

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी में एक बार फिर ऐसी घटना घटी है जिससे पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठने शुरू हो गए है। दरअसल आज सुबह शहर के नेहरू नगर के आईएफएम मांडवा बस्ती के पास नाले में 10 साल की बच्ची का शव मिला है। मृतक बच्ची कल रात से लापता थी। जानकारी […]

179
crime

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी में एक बार फिर ऐसी घटना घटी है जिससे पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठने शुरू हो गए है। दरअसल आज सुबह शहर के नेहरू नगर के आईएफएम मांडवा बस्ती के पास नाले में 10 साल की बच्ची का शव मिला है। मृतक बच्ची कल रात से लापता थी।

जानकारी के अनुसार बीती रात 8 बजे के करीब बच्ची घर से दुकान जाने के लिए निकली थी। जब काफी देर तक वह नही लौटी तो परिजनों ने पुलिस में शिकायत की, लेकिन पुलिस ने शिकायत पर कोई ठोस कदम नही उठाया। नतीजतन आज सुबह परिवारों वालों को मासूम नही बल्कि उसकी लाश मिली। आशंका जताई जा रही है कि बच्ची के साथ बलात्कार के बाद उसकी हत्या की गई है और उसके बाद उसकी लाश नाले में फेंक दी गई.

वहीं परिजनों ने का कहना है कि जब मासूम की कोई खबर नही मिली तो वे रात में ही पुलिस के पास मदद के लिए गए लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। इस पूरी घटना के बाद परिजन पार्षद के पास पहुंचे, जहां करीब 11 बजे पार्षद के कहने पर कमला नगर थाना पुलिस पीड़ित परिवार के घर पहुंची और वहां पुलिस ने परिजनों से चाय-नाश्ता कराने का फरमान दिया।

बच्ची का शव मिलने के बाद परिजन और आस पास के लोग काफी गुस्से में है। जिसके चलते हालातों को काबू करने के लिए आस-पास के इलाकों में भारी पुलिस बल और एसटीएफ की टीम तैनात कर दी है।

वहीं बच्ची के परिजनों के आरोप के बाद लापरवाही बरतने पर आईजी योगेश देशमुख ने कमला नगर थाने के एक पुलिस कर्मी को सस्पेंड कर दिया है। घटना के बारे में आईजी देशमुख का कहना है कि ‘प्राथमिक जांच में लग रहा है कि बच्ची के साथ गलत हुआ है, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ स्पष्ट हो पाएगा।’