Home क्राईम Video: कंपनी का डायरेक्टर बन कॉन्ट्रैक्टर को लगाया लाखों का चूना..अब ऐसे...

Video: कंपनी का डायरेक्टर बन कॉन्ट्रैक्टर को लगाया लाखों का चूना..अब ऐसे चढ़ा पुलिस के हत्थे..पढ़िए

उपेन्द्र त्रिपाठी@बिलासपुर। ऑप्टिकल फाइबर बिछाने का ठेका दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने वाले अंतरराज्यीय ठग को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित ठग को हरियाणा गुड़गांव से पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दरअसल मेडिकल काम्प्लेक्स के पास अपना व्यवसाय चलाने वाले बब्बू सिंह कॉन्ट्रेक्टर ने 26 जनवरी को कोतवाली पुलिस […]

Video: कंपनी का डायरेक्टर बन कॉन्ट्रैक्टर को लगाया लाखों का चूना..अब ऐसे चढ़ा पुलिस के हत्थे..पढ़िए

उपेन्द्र त्रिपाठी@बिलासपुर। ऑप्टिकल फाइबर बिछाने का ठेका दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने वाले अंतरराज्यीय ठग को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित ठग को हरियाणा गुड़गांव से पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

दरअसल मेडिकल काम्प्लेक्स के पास अपना व्यवसाय चलाने वाले बब्बू सिंह कॉन्ट्रेक्टर ने 26 जनवरी को कोतवाली पुलिस को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि दो-तीन महीने पहले यदुनंदन नगर तिफरा में रहने वाले सुमन सिंह नाम के परिचित ने द्वारिका में रहने वाले अवध किशोर के साथ उनका परिचय कराया था, बातचीत के दौरान अवध किशोर नोएडा की कंपनी मेसर्स कानरेड वेंचर्स प्राइवेट लिमिटेड का इंडिया डायरेक्टर बताया। वहीं बड़ा ठेका दिलाने का झांसा अवध किशोर ने झांसे में लेकर 6 सितंबर 2019 को एक ज्वाइंट वेंचर एग्रीमेंट किया गया, जिसमें अवध किशोर ने उसके कई जगह हस्ताक्षर लिया।

उससे बाद कंपनी और अपने खाते में 5 लाख ट्रांसफर करा लिए। इसी दौरान बीच-बीच में उसने और 4 लाख की राशि नगद और नेट बैंकिंग के जरिए हासिल कर लिए। आरोपित ने दावा किया कि 15 दिनों में उसे ठेका दे दिया जाएगा। लेकिन इसी तरह 1 महीने बीत गए और न तो बब्बू सिंह को वर्क आर्डर मिला और न ही कोई जवाब, इस बीच जब भी बब्बू सिंह अवध किशोर से संपर्क करता तो वह टालमोल मटोल करने लगा। इसके बाद बब्बू सिंह को यह एहसास हुआ कि वह ठगा गया है।

जिसके पश्चात उसने थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए टीम का गठन किया और वह लगातार आरोपियों तक पहुंचने की कोशिश करती रही। टीम आरोपी को पकड़ने गुड़गांव हरियाणा और दिल्ली गई। पुलिस ने अवध किशोर को पकड़ने के लिए एजेंट बनकर जाल बिछाया, जिससे अवध किशोर उनके फंदे में फंस गया, और पुलिस ने द्वारिका दक्षिण पश्चिम से अवध किशोर को धर दबोचा।

आरोपित का कई राज्यों की पुलिस को ठगी के मामले में उसकी तलाश है, बिलासपुर पुलिस अन्य राज्यों के साथ भी तालमेल बनाकर उन्हें अवध किशोर की गिरफ्तारी की सूचना दे रही है। उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में अवध किशोर के संबंध में और भी कई चौंकाने वाले खुलासे होंगे।