देश - विदेश

Nagaland Firing: पूर्वोत्तर राज्य नागालैंड में एक और नागरिक की मौत, अब तक कुल 15 लोगों की मौत, इलाके में इंटरनेट सेवा पर रोक, घटना की होगी एसआईटी जांच

कोहिमा। (Nagaland Firing) भारत के पूर्वोत्तर राज्य नगालैंड में शनिवार की रात हुई फायरिंग में अब तक कुल 15 लोगों के मारे जाने की खबर है. मरने वालों में एक जवान भी शामिल है.

बता दें कि (Nagaland Firing) नागालैंड के मोन जिले में इस फायरिंग की घटना के बाद लोग सड़कों पर पर उतर आए थे. कई गाड़ियों में आग लगा दी गई थी. गोलीबारी की इस घटना के कारणों की उच्च स्तर से जांच की जा रही है.

(Nagaland Firing) नागालैंड के राज्यपाल जगदीश मुखी ने मोन जिले के अंतर्गत ओटिंग और तिरु गांव के बीच एक स्थान पर 4 दिसंबर की शाम ग्रामीणों पर गोलीबारी किए जाने के मामले पर दुख जताया. बता दें कि यहां हमले में मारे गए लोग एक मिनी ट्रक सेद लौट रहे थे. उसी दौरान गोलीबारी की घटना हुई. जब ये लोग अपने घरों तक नहीं पहुंचे तो उनकी खोजबीन की गई. बाद में उनक डेड बॉडी मिलीं. इसके बाद लोगों में आक्रोश फैल गया.

इधर नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफियो रियो ने भी घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए इसकी जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित करने की घोषणा की है।

सेना ने एक बयान जारी कर घटना पर ‘गहरा खेद’ जताया है। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस घटना पर दुख जताया और शोक संतप्त परिवारों को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया है। सुरक्षा बल मोन जिले के तिज़ित उप-मंडल के लोंगखाओ क्षेत्र के ओटिंग गांव में शनिवार शाम चार बजे एनएससीएन (के) के संदिग्ध भूमिगत उग्रवादियों की तलाश कर रहे थे। पर घटना की जानकारी रविवार को हुई। इस घटना में कम से कम 20 सैनिक घायल भी हुए थे। स्थानीय संगठनों ने दावा किया कि 14 नागरिक लापता हैं और सेना के जवान देर रात तक शवों को ले जाते देखे गए। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार मोन जिला प्रशासन ने एहतियात के तौर पर पूरे जिले में इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: