कोरबा

Korba: हरदीबाजार-तरदा बाईपास जमीन अधिग्रहण मामला, कलेक्टर ने एसपी को लिखा पत्र, कई अधिकारियों और नेताओं के करीबियों पर लटकी कार्यवाही की तलवार, दोषी भू-माफियाओं पर होगी FIR

रायपुर। जिले में हरदीबाजार-तरदा बाईपास के लिए जमीन अधिग्रहण के मामले में कलेक्टर रानू साहू ने एसपी को पत्र लिखा है। उन्होंने बाईपास के लिए जमीन अधिग्रहण करने वालों के खिलाफ अपराधिक प्रकरण दर्ज करने का जिक्र किया है।  जमीन अधिग्रहण की खबर के बाद कई अधिकारियों और राजनेताओं के करीबियों ने नियम के विरुद्ध जाकर जमीन खरीद लिया। जिसकी काफी शिकायत भी मिली थी। मामले को तूल पकड़ता देख जांच के आदेश दिए गए थे।

राज्य शासन ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर कोरबा को मामले की जांच कराकर प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए थे। कलेक्टर कोरबा के प्रतिवेदन में प्रथम दृष्टया गड़बड़ी का मामला पाए जाने पर दोषियों के विरूद्ध कार्रवाई किए जाने के राज्य शासन के निर्देश के परिपालन में कलेक्टर कोरबा द्वारा इस मामले में आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की कार्रवाई की गई है।

हरदीबाजार-तरदा बाईपास सड़क के लिए ज़मीन अधिग्रहण के मुआवजा प्रकरण में अनियमितता और एक ही भूमि को हिस्से कर बार-बार खरीदी बिक्री करने वाले भू-माफियाओं पर एफआईआर दर्ज की जाएगी। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने आज कार्रवाई के लिए पुलिस अधीक्षक को पत्र भेजा है।

उल्लेखनीय है कि हरदीबाजार-तरदा बाईपास सड़क बनाने के लिए किसानों की जमीन अधिग्रहित की गई थी। भू-माफियाओं द्वारा एक ही जमीन को छोटे छोटे हिस्सो में कई बार बेचने,  भूमि अधिग्रहण के मामले में अनियमितता और मुआवजा प्रकरणों में नियमों की अनदेखी की कई शिकायतें कलेक्टर को मिली थी।

Chhattisgarh में आज मिले 5649 नए मरीज, 15 मरीजों की मौत, जानिए बाकी जिलों का हाल

शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए कलेक्टर ने इसकी जांच कराई थी। जांच में सामने आया है कि भूमि अधिग्रहण के मामलों में भू-राजस्व संहिता व अधिग्रहण नियमों की भारी अनदेखी की गई है। नियमों के विरुद्ध पांच हजार स्क्वेयर फ़ीट से कम रकबे का अधिग्रहण दिखाकर बढ़े मुआवजे के प्रकरण स्वीकृत किये गए हैं।

इसके साथ ही ऐसे कई खसरों की भूमि को भी अधिग्रहित किया गया है, जो बाईपास सड़क सीमा में नहीं आती है। अधिग्रहण के नियमों के उलंघन और मुआवजा प्रकरण में अनिमितता के कारण शासन को भारी राजस्व हानि उठानी पड़ी है। पूरे प्रकरण की शिकायत कई बार कलेक्टर व उच्च अधिकारियों से की गई थी जिस पर संज्ञान लेते हुए कलेक्टर ने जांच कराई थी। अब कलेक्टर ने दोषी भू-माफियाओं के विरुद्ध एफआईआर करने के लिए पुलिस अधीक्षक को भी निर्देशित किया है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: