देश - विदेश

Kisan Protest: हरियाणा के पंचकूला में प्रदर्शनकारी किसानों ने उखाड़े बैरिकेड्स, लखनऊ में पुलिस ने रोका, राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने निकले थे किसान

नई दिल्ली। किसान आंदोलन ( Kisan Protest) को 7 महीने पूरे हो गए हैं। इस मौके पर देशभर के किसान प्रदेश के राज्यपाल और  केंद्रशासित राज्यों उपराज्यपाल को ज्ञापन सौंप रहे हैं। कई जगहों पर पुलिस और किसानों के बीच छिटपुट झड़प की खबरे सामने आ रही है। यहां तक की किसान नेता राकेश टिकैत की अफवाह की भी खबर उड़ी है।

( Kisan Protest) यूपी से लेकर हरियाणा तक के किसान राज्यपाल और उपराज्यपाल को ज्ञापन सौंप रहे हैं। हरियाणा के राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने के लिए पंचकूला से किसान निकले थे। पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए बैरिकेड्स के साथ सीमेंट की बीम भी लगाई थी। ( Kisan Protest) इसी दौरान पंचकूला से आ रहे किसानों को रोकने की कोशिश की गई। गुस्साएं किसानों ने बैरिकेड्स को तोड़कर आगे बढ़ गए।

यूपी में लखनऊ में भी किसान संगठन जब राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने निकले तो पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर बापू भवन से पहले ही उन्हें रोक दिया. हालांकि, बाद में आधा दर्जन से ज्यादा किसान नेता राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन सौंपकर आए. किसानों ने बताया कि जब तक काले कानूनों को वापस नहीं लिया जाता, तब तक हर 26 तारीख को ऐसे ही प्रदर्शन किया जाएगा.

कृषि आंदोलन को लेकर किसानों ने आज फिर बड़ा प्रदर्शन बुलाया है. इस दौरान देश के सभी राज्यों के राज्यपाल और केंद्र शासित प्रदेशों के उपराज्यपाल को किसान ज्ञापन सौंप रहे हैं. साथ ही

कानून वापस नहीं लेने पर जो आंदोलन 7 महीनों से चल रहा है, वो अगले 7 साल तक भी चलता रहेगा. दिल्ली में भी 6 किसान नेताओं ने उपराज्यपाल अनिल बैजल को ज्ञापन सौंपा.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: