रायगढ़

JSPL के तानाशाही रवैये से परेशान हैं इंडस्ट्रियल पार्क के उद्योग संचालक…. प्रशासन के हस्तक्षेप से चाहते है स्थाई समाधान

नितिन@रायगढ़। बीती रात जिंदल ने पूंजीपथरा इंडस्ट्रियल पार्क में ब्लैकआउट कर दिया था। जिससे नाराज करीब 40 की संख्या में उद्योगपति और उनके सैकड़ों कर्मचारी ब्लैकआउट के विरोध में सड़क पर उतर आएं। उनका कहना है कि जिंदल प्रबंधन की गुंडागर्दी की वजह से वो काफी परेशान हो चुके हैं। इस मामले में वो अब प्रशासन के हस्तक्षेप से स्थाई समाधान चाहते हैं।

उन्होंने इस विषय में कई बार अपील भी की है। परंतु झूठे आश्वासन के बाद बीते कल अंतर्राष्ट्रीय मज़दूर दिवस के दिन तकनीकी अवरोध की आड़ में जिंदल ने विद्युत सप्लाई को अवरूद्ध कर अमानवीय बर्ताव किया है। इसके विरोध में इस्पात उद्योग संघ शाम 4 बजे रामलीला मैदान से कलेक्टर कार्यालय तक मौन जुलूस निकाला। जुलूस रामलीला मैदान से निकलकर शहर के विभिन्न चौक से होते हुए जिला कलेक्ट्रेट पहुंचा।

यहां उद्योगपतियों और उद्योगकर्मियों का एक प्रतिनिधि मंडल कलेक्टर भीम सिंह से मिला। उनके सामने अपनी समस्या रखी और समाधान की अपील की। वही रायगढ़ इस्पात उद्योग संघ के मौन जुलूस में उद्योगपतियों के अलावा  औद्योगिक पार्क के सैकड़ों मज़दूर शामिल हुए।

वही पत्रकारों से चर्चा के दौरान एक उद्योगपति ने बताया कि हम पिछले दो महीने से जिंदल प्रबंधन के द्वारा बार बार विद्युत आपूर्ति बाधित करने की वजह से बहुत परेशान रहे है। इस वजह से हमने प्रशासन और न्यायालय दोनो के पास गुहार लगाई। न्यायालय के आदेश के बाद भी कल मजदूर दिवस के दिन जिस तरह जिंदल प्रबंधन ने विद्युत आपूर्ति बाधित की इससे हम सबका सब्र जवाब दे गया। अंततः मजबूर होकर हमे आंदोलन की राह पकड़नी पड़ी।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: