गरियाबंद

Gariyaband: चार साल पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लगा एक्सरे मशीन अब तक नहीं हो पाया शुरू, अधिकारियों ने लोवोल्टेज को बताया वजह

रवि तिवारी@देवभोग। (Gariyaband) सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र देवभोग में चार साल पहले एक्सरे मशीन तो लगा दी गईं, लेकिन इस मशीन को अब तक शुरू नहीं किया जा सका हैं। आज स्थिति यह हैं कि लाखों रुपये की यह मशीन धूल खाती हुई पड़ी हैं। वहीं मशीन के चालू नहीं होने के पीछे का कारण लोवोल्टेज बताया जा रहा हैं।

(Gariyaband) इसी क्रम में आज देवभोग सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुँचे एसडीएम टीकाराम देवांगन ने बीएमओ डॉक्टर अंजू सोनवानी से एक्सरे मशीन को लेकर जवाब तलब क़िया। एसडीएम ने कहा कि स्वास्थ्य केंद्र में एक्सरे मशीन क्यों शुरू नहीं हो पाया हैं। उन्होंने कहा कि इतनी महंगी मशीन अब तक बंद पड़ी हैं, इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने अपने स्तर पर क्या प्रयास किया हैं। जिस पर बीएमओ डॉक्टर सोनवानी ने बताया कि मशीन को शुरू करने के लिए स्टेप्लाइज़र भी लगाया गया था,लेकिन वह भी खराब हो गया। वहीं उसे सुधार करने के लिए दिल्ली की टीम भी आई थी,लेकिन वह नहीं बन सका। बीएमओ ने एसडीएम को बताया की अभी अस्पताल में वायरिंग का काम चल रहा हैं, वहीं उन्होंने एसडीएम को आश्वस्त किया कि समस्या का जल्द ही  समाधान कर एक्सरे मशीन चालू किया जाएगा।

Corona: फिर बढ़ने लगी संक्रमितों की संख्या, देश में आज मिले 34,403 नए केस, पढ़िए स्वास्थ्य़ मंत्रालय की कोरोना रिपोर्ट

दो साल पहले लगी डायलिसिस यूनिट भी नहीं हो पाई शुरू

(Gariyaband) यहां बताना लाज़मी होगा कि सुपेबेड़ा के मरीजों को राहत देने के लिए राज्यशासन ने देवभोग में डायलिसिस यूनिट लगाने की घोषणा किया था। वहीं शासन द्वारा घोषणा किये जाने के बाद मशीन तो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र देवभोग पहुँच गईं, लेकिन वह मशीन अब तक शुरू नहीं हो पाई। आज स्थिति यह हैं कि दोनों महंगी मशीनों पर धूल जम रहीं है। वहीं डायलिसिस यूनिट के शुरू नहीं होने को लेकर सीएमएचओ डॉक्टर एन आर नवरत्न ने बताया कि टेक्नीकल स्टाफ(ट्रेंड पर्सन) के अभाव में मशीन शुरू नहीं हो पाया है। हमने शासन स्तर पर भी मांग पत्र भेज दिया है। वहीं बीते 28 जुलाई को विधानसभा के सचिवालय में हुई बैठक में पूरी बातों को उच्च अधिकारियों के सामने रखी गई है।

वहीं देवभोग में अभी वायरिंग का काम चल रहा हैं, जनरेटर भी भेजने की तैयारी हैं। सभी कार्य उच्चस्तर के निर्देशानुसार चल रहा हैं। वहीं एक्सरे मशीन को लेकर सीएमएचओ ने कहा कि लोवोल्टेज के चलते यह मशीन शुरू नहीं हो पाई हैं। वहीं मशीन के लिए जनरेटर की व्यवस्था की जा रहीं हैं। इसके लिए कलक्टर को मांग पत्र भेजा गया हैं। जैसे ही वहां से स्वीकृति मिलेगी। तत्काल जनरेटर खरीद कर एक्सरे मशीन को शुरू करवा दिया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: