Chhattisgarhगरियाबंद

Gariyaband: धर्मांतरण कर चुके दो परिवार के 5 सदस्यों की सांसद की मौजूदगी में घर वापसी, तस्वीर भेंटकर किया स्वागत

 रवि तिवारी@गरियाबंद। (Gariyaband) अगुवाई लालच में आकर धर्मांतरण कर चुके दो परिवार के 5 सदस्य आज वापस अपने धर्म मे लौट आये है। धर्म जागरण मंच की और सासंद चुन्नीलाल साहू की मौजूदगी में परिवार के सदस्यों की घर वापसी हुई है। तिलक वदन कर और बजरंग बली की तस्वीर भेंटकर परिवार के सदस्यों का घर वापसी पर स्वागत किया गया है। मामला देवभोग क्षेत्र के केंदुवन गांव का है।

(Gariyaband) पीड़ित ने बताया कि दो साल पूर्व वह रायपुर में चाय दुकान चलाते थे। इस दौरान कुछ लोगो ने उसे अपने धर्म मे शामिल करने और दूसरे लोगो को भी उनके धर्म से जोड़ने के बदले नौकरी का लालच दिया। वह अज्ञानवश उनके लालच में आ गया। दो साल बाद भी उन्होंने उसे नौकरी नही दी। पीड़ित ने इसकी नामजद लिखित शिकायत देवभोग थाना में दर्ज कराने का दावा किया है।

धर्म जागरण मंच के जिला संयोजक जय विलास शर्मा ने बताया कि कुछ ताकते सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ प्रदेश यहां तक कि छोटे-छोटे गांवो में भी धर्मांतरण कराने में जुटी है। इस मामले में भी बाहरी ताकतों ने लालच देकर धर्मांतरण का प्रयास किया था लेकिन केवल पीड़ितों की भावनाओ के साथ खिलवाड़ किया गया। उन्होंने कहा कि घर वापसी का कार्यक्रम शुरू हो गया है धीरे-धीरे पूरे प्रदेश में घर वापसी अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने लोगो को झूठे आश्वासनों से बचने और हिन्दू एकता को टूटने से बचाने की अपील की है।

(Gariyaband) सासंद चुन्नीलाल साहू ने घर वापसी के क्षणों को देवभोग क्षेत्र के लिए गौरवशाली बताते हुए कहा कि किसी कारण से जिन लोगो का धर्मांतरण हुआ था आज वे स्वेच्छा से वापिस अपने धर्म मे लौट आये है। उन्होंने आज के कार्यक्रम को घर वापसी की शुरुवात बताया और कहा कि प्रदेशभर में धर्मातरण कर चुके लोगो की आज देवभोग से घर वापसी की शुरुवात हो रही है। उन्होंने इसे क्षेत्र के लोगो को भोले भाले समझने वालों के लिए सबक बताया है। उन्होंने कठोर लहजे में चेतावनी जारी करते हुए कहा कि विदेशी ताकतों के लालच का घड़ा ज्यादा दिन चलने वाला नही है, बल्कि जल्द फूटने वाला है। देवभोग क्षेत्र से आज इसकी शुरुआत हो चुकी है। जो समाज को तोड़ने का काम कर रहे है सभी मिलकर उसे तोड़ने का काम करेंगे।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: