देश - विदेश

Ganesh Visarjan: इस वक्त ना करें बप्पा की विदाई…जानिए शुभ मुहूर्त और विधि

ई दिल्ली। (Ganesh Visarjan) आज सुबह से ही गणेश विसर्जन की तैयारियां शुरू हो गई हैं. बैंड-बाजों की धुन के साथ भक्त अगले साल गणेश जी के फिर आगमन की कामना को लेकर बप्पा को विदाई दे रहे हैं. गणेश विसर्जन से पहले जान लीजिये विधि और पूजा का शुभ मुहूर्त…

शुभ मुहूर्त

(Ganesh Visarjan) राहु काल में विसर्जन वर्जित माना गया है. पंचाग के मुताबिक गणपति विसर्जन के 5 शुभ मुहूर्त हैं. 19 सितंबर को गणपति विसर्जन है और धृति योग का निर्माण हो रहा है. आज सुबह 7.40 बजे से दोपहर 12.15 बजे तक, दोपहर में में 1:46 बजे से 03:18 बजे तक, शाम को 6:21 बजे से रात 10:46 बजे तक (Ganesh Visarjan) का विसर्जन को लेकर शुभ मुहूर्त है. वहीं 20 सितंबर को तड़के 04:40 बजे से सुबह 06:08 बजे तक विसर्जन का शुभ मुहूर्त है.

इस तरह करें विसर्जन

गणेश विसर्जन के दौरान कुछ खास चीजों का ध्यान रखें. विसर्जन से पहले उन्हें स्नान कराकर नए वस्त्र पहनाएं. रेशम के कपड़े में मोदक, दूर्वा घास, सुपारी और दक्षिणा बांधकर रखें. इस बंधी हुई पोटली को भगवान गणेश की मूर्ति के साथ रखें और भगवान गणेश की पूजा करें. जलकुंड के पास पहुंचकर मूर्ति को पश्चिम दिशा में बांधे गए रेशमी कपड़े की पोटली के साथ विसर्जित करें.

बप्पा दूर करेंगे पीड़ा

बता दें 10 सिंतबर से गणेश उत्सव का शुभारंभ हुआ था. इस दौरान जगह-जगह गणेश जी की झांकियां संजाई गईं. भंडारे और भजन आदि का आयोजन पूरे 10 दिन तक  हुआ. इसके बाद आज गणेश जी विदाई ले रहे हैं. मान्यता है कि विसर्जन के साथ बप्पा अपने सभी भक्तों के दर्द, पीड़ा और जीवन की बाधाओं को दूर करते हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: