Home जिले खस बेचने दूर से आया था परिवार..राशन को पैसे नहीं…इस संकट की...

खस बेचने दूर से आया था परिवार..राशन को पैसे नहीं…इस संकट की घड़ी में विधायक बने मददगार

शैलेश गुप्ता@कोरिया। पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया गया है। लॉकडाउन के चलते आम जनमानस को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है और हजारों मजदूर अपने घरों के लिए पैदल ही निकल रहे हैं। इसी बीच सविप्रा उपाध्यक्ष और विधायक गुलाब कमरो ने दरियादी दिखाई है। मनेन्द्रगढ़ नगर में दूर से एक परिवार खच […]

खस बेचने दूर से आया था परिवार..राशन को पैसे नहीं…इस संकट की घड़ी में विधायक बने मददगार

शैलेश गुप्ता@कोरिया। पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया गया है। लॉकडाउन के चलते आम जनमानस को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है और हजारों मजदूर अपने घरों के लिए पैदल ही निकल रहे हैं। इसी बीच सविप्रा उपाध्यक्ष और विधायक गुलाब कमरो ने दरियादी दिखाई है।

मनेन्द्रगढ़ नगर में दूर से एक परिवार खच बेचने के लिए शहर में आया हुआ था। लेकिन लॉकडाउन (lock) होने से उनके एक खस की ब्रिकी नहीं हुई है। उनके पास राशन खरीदने के पैसे नहीं थे। जैसे इसकी जानकरी विधायक कमरो को मिली। तत्काल जरूरतमंद परिवारों से मिले। उन्हें आवश्यक वस्तुएं तत्काल मुहैया कराया गया।