Home जिले त्योहारों को देखते हुए आबकारी विभाग सख्त, कई स्थानों पर की कार्यवाही

त्योहारों को देखते हुए आबकारी विभाग सख्त, कई स्थानों पर की कार्यवाही

कुछ विशेष समय पर ही दिखती है मुस्तैदी, विभाग को खानापूर्ति छोड़ लगातार काम करने की आवश्यकता रायगढ़। रायगढ़ जिले में जन्माष्टमी के पावन पर्व पर कलेक्टर यशवंत कुमार ने आबकारी विभाग को अवैध शराब बिक्री, निर्माण और तस्करी पर कड़ाई से रोकथाम लगाने कहा है। विभाग के सहायक आयुक्त दिनकर वासनिक ने जिला अधिकारियों  […]

48

कुछ विशेष समय पर ही दिखती है मुस्तैदी, विभाग को खानापूर्ति छोड़ लगातार काम करने की आवश्यकता

रायगढ़। रायगढ़ जिले में जन्माष्टमी के पावन पर्व पर कलेक्टर यशवंत कुमार ने आबकारी विभाग को अवैध शराब बिक्री, निर्माण और तस्करी पर कड़ाई से रोकथाम लगाने कहा है। विभाग के सहायक आयुक्त दिनकर वासनिक ने जिला अधिकारियों  आई.बी. मारकण्डे और रमेश कुमार अग्रवाल को प्रतिदिन कार्यवाही करने निर्देशित किया है।

जन्माष्टमी के पर्व पर रायगढ़ शहर में उमड़ती भीड को देखते हुए आबकारी विभाग ने सार्वजनिक स्थानों पर मदिरापान पर सख्त कार्यवाही की है। उप निरीक्षक आशीष उप्पल ने सत्तीगुड़ी चौक के पास शराबखोरी कर रहे विजय कुमार माली और उसके भाई संतराम माली आत्मज स्व. विश्वनाथ, बडे़रामपुर रोड पर कैलाश निषाद पिता इतवार सिंह को पकड़ा जाकर न्यायालय रायगढ़ में चालान पेश किया।

रायगढ़ जिले के खरसिया अनुभाग के उप निरीक्षक डॉ. राकेश राठौर ने चपले ग्राम के रामनगर में सार्वजनिक स्थान पर बीयर पीते हुए महेश कुमार पटेल पिता पूनम लाल के विरूद्ध कार्यवाही की। ग्राम ढिमानी के सुरेश चौहान पिता दुर्गा प्रसाद को अवैध शराब पर प्रकरण कायम किया। थाना- भूपदेवपुर के ग्राम जवलपुर में माण्ड नदी किनारे शराब बनाने की सूचना पर टीम ने दबिश दी वहां से 27 बोरियों और 04 मटकियों में भरा हुआ सवा तीन क्विंटल महुआ लाहन और चार भट्ठियां बरामद की। शराब बना रहे अपराधी नदी के पुल से आती टीम को देख कर भागने में सफल हो गये।

उड़ीसा राज्य के सीमावर्ती ग्राम मोदहाभाठा नेतनागर में अवैध शराब के भारी कारोबार को पकड़ने में आबकारी ने सफलता प्राप्त की, बिक्री के लिए तैयार 20-20 लीटर के 03 प्लास्टिक डिब्बों में भरी 60 लीटर शराब जप्त की गई। पुसौर ब्लॉक के टपरदा सुतिया खार के पास 200 प्लास्कि बोरियों में भरा शराब तैयार करने के लिए तैयार महुआ लाहन कुल मात्रा 20 क्विंटल और 15 भट्ठियों को जब्त किया।

आबकारी कानून की जानकारी देते हुए सहायक जिला आबकारी अधिकारी  रमेश कुमार अग्रवाल ने बताया कि सार्वजनिक स्थान पर शराब पीते हुए पाये जाने पर तीन साल की जेल और पचास हजार रूपये जुर्माना है जबकि शराब बिक्री करते हुए या इसमें सहयोग करने वाले को दस साल की जेल और पांच लाख रूपये जुर्माना होता है। शराब पीकर हंगामा और छेड़खानी पर एक से तीन साल की जेल की यात्रा करनी पड् सकती है। इसी प्रकार अवैध शराब बनाने वालों की मदद करने वालों को सात साल की सजा होती है