छत्तीसगढ़

Durg: सफाईकर्मी को आजीवन कारावास, स्कूल के प्राचार्य, प्रबंधन और दो महिला शिक्षिकों को 6-6 माह की सजा, जानिए क्या है पूरा माजरा

दुर्ग। (Durg) एमजीएम स्कूल में बच्चियों के साथ छेड़छाड़ करने वाले सफाईकर्मी को कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। वहीं मामले को दबाने वाले प्राचार्य, प्रबंधन समेत 2 महिला शिक्षकों को 6-6 माह की सजा सुनाई गई है। पीड़ित बच्चियों को 4 लाख रुपए मुआवजा राशि देने का आदेश कोर्ट ने दिया है।

UP: प्रधानमंत्री ने रखी राजा महेन्द्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय की आधारशिला, बोले- 20वीं सदी की गलतियों को सुधार रहा है 21वीं सदी का भारत

जानकारी के मुताबिक(Durg)  पूरा मामला भिलाई नगर थाना स्थित एमजीएम स्कूल का है। साल 2016 स्कूल के सफाईकर्मी ने बच्चियों को बाथरूम में ले जाकर अश्लील हरकत करता था। सफाईकर्मी की इन हरकतों से तंग आकर बच्चियों ने इसकी शिकायत परिजनों से की। शिकायत मिलते ही आक्रोशित परिजन स्कूल पहुंचे। सफाईकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। लेकिन सफाईकर्मी पर कार्रवाई करने के बजाय स्कूल प्रबंधन परिजनों को धमकाने लगे। स्कूल प्रबंधन की ओर से मामले को दबाने की भी कोशिश की गई। मगर परिजन स्कूल के बाहर डटे रहे और अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखे।

Ambikapur: ‘हमर खून बचाही जिंदगी’ के अंतर्गत स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन

(Durg) जब मामला तूल पकड़ने लगा तो प्राचार्य, सफाईकर्मी, दो शिक्षिका और स्कूल प्रबंधन के खिलाफ भिलाई नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज की गई। पॉक्सो एक्ट सहित 4 धाराओं में मामला दर्ज किया गया। आखिरकार 5 साल बाद परिजनों को न्याय मिल ही गया।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: