Home मध्य प्रदेश ग्वालियर गुटबाजी रोकने सोनिया गांधी को आना पड़ा आगे, कमलनाथ-सिंधिया दिल्ली तलब

गुटबाजी रोकने सोनिया गांधी को आना पड़ा आगे, कमलनाथ-सिंधिया दिल्ली तलब

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश का राजनीतिक हाई ड्रामा थमने का नाम नहीं ले रहा। अब बात इतनी बढ़ गई है कि सोनिया गांधी को हस्तक्षेप करना पड़ रहा है। दरअसल मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों के बीच प्रदेश में पार्टी के नए अध्यक्ष को लेकर विवाद अब सार्वजनिक होता जा […]

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश का राजनीतिक हाई ड्रामा थमने का नाम नहीं ले रहा। अब बात इतनी बढ़ गई है कि सोनिया गांधी को हस्तक्षेप करना पड़ रहा है। दरअसल मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों के बीच प्रदेश में पार्टी के नए अध्यक्ष को लेकर विवाद अब सार्वजनिक होता जा रहा है। इस बात से नाराज राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दोनों नेताओं को दिल्ली तलब किया है।

सोनिया गांधी ने दोनों नेताओं को अलग-अलग बुलाया है ताकि किसी भी अप्रिय घटना से बचा जा सके। कांग्रेस की वर्तमान स्थिति देखते हुए सोनिया गांधी किसी भी विवाद से बचना चाहती हैं। इसलिए वो मध्यप्रदेश में एक ऐसा अध्यक्ष चुनना चाहेंगी जिसे दोनों ही बड़े नेताओं का समर्थन प्राप्त हो, हालांकि अभी की स्थिति देखते हुए यह नामुमकिन ही लगता है।

गौरतलब है कि यह गुटबाजी उस दौरान शुरू हुई जब सिंधिया के समर्थक दतिया जिला कांग्रेस अध्यक्ष खुलकर सामने आ गए, और ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग कर डाली। इसके बाद कई और नेताओं ने उनके सुर में सुर मिला कर उनकी मांग को जायज ठहराया, साथ ही मांग पूरी ना होने की स्थिति में इस्तीफा तक दे देने की बात तक कह डाली।