Home जिले रायपुर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- भाजपा...

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- भाजपा वसूलती थी सीमेंट कंपनियों से मोटा चंदा

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के उस बयान पर निशाना साधते हुए कहा कि भविष्य में सीमेंट के दाम बढ़ सकते हैं हो सकता है कि प्रदेश सरकार मोटा चंदा लेने के लिए सीमेंट कंपनियों पर दबाव बना रही है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने यह […]

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- भाजपा वसूलती थी सीमेंट कंपनियों से मोटा चंदा

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के उस बयान पर निशाना साधते हुए कहा कि भविष्य में सीमेंट के दाम बढ़ सकते हैं हो सकता है कि प्रदेश सरकार मोटा चंदा लेने के लिए सीमेंट कंपनियों पर दबाव बना रही है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने यह बयान निश्चित तौर पर अनुभव के आधार पर दिया होगा क्योंकि उनकी सरकार 15 वर्षों में इस प्रदेश के सत्ता का सुख भोग रही थी और सिवाय चंदा वसूली और कमीशन खोरी के अलावा कुछ भी नहीं की थी।

प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि धरमलाल कौशिक के बयान से स्पष्ट है कि पूर्ववर्ती भारतीय जनता पार्टी की सरकार मोटा चंदा वसूलने के लिए सीमेंट कंपनियों पर दबाव डालती थी और वर्ष 2009 में जो सीमेंट प्रति बोरा 209 रु था वह भाजपा के रमन सरकार के कार्यकाल में 245 रु. तक पहुंच गया था बीच के वर्षों में यह मूल्यवृद्धि 260 रु तक जा चुकी थी वही वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव के पूर्व में सीमेंट का रेट प्रति बोरा 223 रु. था जो चुनाव के ठीक पहले बढ़कर 245-250 रु तक पहुंच गया तक अर्थात 22 से 27 रु प्रति बोरा की मूल्यवृद्धि अचानक की गई थी इसका मतलब स्पष्ट है कि चुनाव के पूर्व भारतीय जनता पार्टी चौथी बार सरकार बनाने का झांसा देकर सीमेंट कंपनियों से मोटा चंदा के रूप में 27 रु. तक प्रति बोरा चंदा की वसूली की थी।

प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक का बयान गैर जिम्मेदाराना बुनियादी है क्योंकि जब से प्रदेश की कमान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संभाली है तब से आज तक सीमेंट का मूल्य स्थिर है इस पर कोई भी बढ़ोतरी दर्ज नहीं की गई है विगत 2 वर्षों से सीमेंट का मूल्य 250 रू. में ही स्थित है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक को अब नींद में अपने समय में वसूले गए चंदा और कमीशन खोरी याद आ रहे है और सुबह उठकर वह बिना तथ्य के आरोप कांग्रेस सरकार पर लगा रहे हैं। जबकि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में प्रदेश अब उत्तरोत्तर विकास और प्रगति की ओर अग्रसर है।