धमतरी

Dhamtari: बेहद खतरनाक चुनौती से निपटने के बाद वनविभाग में उत्साह, नर दंतैल हाथी रेंगाराजा को दवा खिलाकर किया ठीक, डीएफओ ने कहा- भरोसे के रिश्तों की शुरुआत

संदेश गुप्ता @धमतरी। (Dhamtari) जिले में में एक बीमार दंतैल हाथी को वनविभाग ने दवा खिला कर ठीक कर दिया, इस बेहद खतरनाक चुनौती से निपटने के बाद वनविभाग में उत्साह है, और शायद इंसान और हाथी के बीच अब समन्वय की संभावना के शुभ संकेत दिखने लगे हैं।

जिले में मेहमान बन आये हाथी अब यहाँ के स्थायी निवासी बन चुके हैं, हाथियों में यहाँ फसलों को बेहद नुकसान भी पहुँचाया है, जिसके कारण हाथी और इंसान एक दूसरे को अपना दुश्मन ही मान चुके थे, इस बीच एक बेहद अच्छी खबर सामने आई है, (Dhamtari) एक नर दंतैल हाथी ने इंसान के हाथ से दवाई खाई बार बार खाई और उसकी बीमारी बिल्कुल ठीक हो गई, उग्र स्वभाव वाले इस नर हाथी ने इस दौरान किसी को कोई नुकसान नही पहुँचाया,

National: वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ ICU में भर्ती, बेटी मलाइका दुआ ने दी जानकारी, कहा- हालत गंभीर

लंबे समय से गांव के जंगल में है ‘रेंगाराजा’

(Dhamtari) किस्सा रेंगाराजा नाम के हाथी का है, जिसका वैसे तो टेक्निकल नाम एमई-5 है लेकिन ये हाथी रेंगाखार गांव के जंगल मे ही लंबे समय से है. इसलिए प्यार से इसका नाम रेंगाराजा रख दिया गया है, वनविभाग को खबर मिली कि ये हाथी ठीक से चल नही पा रहा है उसके एक पैर में सूजन है और वो किसी बीमारी की चपेट में आ गया है,

वनविभाग ने पहले खतरे को देखते हुए इसे ट्रेंक्यूलाइस किया, फिर डॉक्टरों ने बीमारी को पहचाना, लेकिन अब सबसे बड़ी चुनौती हाथी को दवाई खिलाने की थी, दवाई खिलाते समय अगर हाथी बिगड़ गया तो जान ले सकता था, फिर भी वन कर्मियों ने ये खतरा उठाया और हाथी के करीब जाने में किसी तरह कामयाब हो गए, शायद हाथी ने भी भांप लिया कि उसकी मदद करने की कोशिश हो रही है ये बेजुबान जानवर और इंसान के बीच भरोसा बनाने की कोशिश थी जो कामयाब हो गई

Pakistan: सिर पर बिना कुछ ओढ़े गुरुद्वारा श्री दरबार साहिब में महिला ने कराया फोटोशूट, पाकिस्तान मंत्री का ट्वीट- कोई फिल्म सेट नहीं है बल्कि एक धार्मिक प्रतीक

आराम से खाई दवाई

, रेंगाराजा ने आराम से दवाई खाई, एक बार नही लगातार 6 दिन तक दवाई ली हर डोज़ ली और अब वो पूरी तरह से स्वस्थ हो चुका है, धमतरी डीएफओ सतोविषा समाजदार ने बताया कि जो हाथी 1 किलोमीटर भी नही चल पा रहा था अब वो एक दिन में ही 10 किलोमीटर चलने लगा है दौड़ने भी लगा है, ये बेशक बड़ी कामयाबी कही जाएगी, और धमतरी में इंसान और जंगली हाथियों के बीच भरोसे के रिश्तों की शुरुआत भी कही ला सकती है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: