देश - विदेश

Delhi-NCR Air Quality: मेरठ की हवा सबसे अधिक प्रदूषित, दिल्ली- NCR में बढ़ा प्रदूषण, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद का AQI 400 पार

नई दिल्ली। (Delhi-NCR Air Quality) देश के कई हिस्सों में ठंड धीरे-धीरे दस्तक दे रही है. इसी के साथ वाय़ु गुणवत्ता भी काफी खराब श्रेणी में पहुंच गई है. उत्तर प्रदेश, दिल्ली और हरियाणा समेत कई राज्यों में एयर क्वालिटी इंडेक्स काफी गंभीर स्थिति पर पहुंच चुका है. यूपी के मेरठ शहर की हवाएं सबसे अधिक प्रदूषित है. मेरठ में हवा की गुणवत्ता में गिरावट के साथ AQI 500 के पार है. (Delhi-NCR Air Quality)जो कि सबसे खतरनाक श्रेणी में आता है. दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 400 के पार पहुंच गया है,

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में वायु गुणवत्ता ‘खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई और वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 244 रहा. जबकि बल्लभगढ़ का एक्यूआई 271 रिकॉर्ड किया गया. जबकि फरीदाबाद में AQI 250 के आस-पास बना हुआ है. जो कि ‘मध्यम’ श्रेणी में आता है.

Petrol- Diesel Price: ऐतिहासिक ऊंचाई पर पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए आज का रेट

जानिए किसे माना जाता है खतरनाक श्रेणी और किसे न्यूनतम

(Delhi-NCR Air Quality)बता दें कि वायु गुणवत्ता सूचकांक में प्रदूषण का स्तकर 0-50 तक होने पर न्यूमनतम प्रभाव होता है. AQI शून्य और 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच एक्यूआई को ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 और 500 के बीच एक्यूआई को ‘गंभीर’ यानी ‘खतरनाक’ श्रेणी में माना जाता है.

Gariyaband: वन विभाग ने की बड़ी कार्रवाई, 25 नग सागौन गोले के साथ मिनी मेटाडोर जब्त, करीब साढ़े तीन लाख रुपये आंकी गई कीमत

‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ अभियान शुरू करने जा रही केजरीवाल सरकार

वायु प्रदूषण कम करने के लिए दिल्ली सरकार ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ अभियान शुरू करने जा रही है. सीएम केजरीवाल ने जनता से अपील करते हुए कहा कि हम सबको अपने स्तर पर प्रदूषण कम करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने होंगे. पिछले साल ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ अभियान के अच्छे नतीजे मिले थे. इस बार दिल्ली सरकार की तरफ से 18 अक्टूबर से यह कैंपेन अधिकारिक रूप शुरू हो रहा है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: