Home जिले चकरभाठा एयरपोर्ट निर्माण में देरी से पिछड़ी बिलासपुर स्मार्ट सिटी, इस वजह...

चकरभाठा एयरपोर्ट निर्माण में देरी से पिछड़ी बिलासपुर स्मार्ट सिटी, इस वजह से नही हो पा रहा कार्य पूर्ण

उपेंद्र त्रिपाठी@बिलासपुर. बिलासपुर जिले में विकास के लिए बहुत सी महत्वाकांक्षी परियोजनाएं बनाई हैं। लेकिन सालों बीतने के बाद यह परियोजनाएं अपना मूर्त आकार नहीं ले पायी हैं। बिलासपुर की जनता के लिए बनाई गई एक और बड़ी परियोजना में से हवाई सेवा भी है। लेकिन सालों बाद भी अब तक शुरू नहीं हो पाई […]

109
chakarbhata airport

उपेंद्र त्रिपाठी@बिलासपुर. बिलासपुर जिले में विकास के लिए बहुत सी महत्वाकांक्षी परियोजनाएं बनाई हैं। लेकिन सालों बीतने के बाद यह परियोजनाएं अपना मूर्त आकार नहीं ले पायी हैं।

बिलासपुर की जनता के लिए बनाई गई एक और बड़ी परियोजना में से हवाई सेवा भी है। लेकिन सालों बाद भी अब तक शुरू नहीं हो पाई है। करीब 29 करोड़ के एयरपोर्ट के विकास के मिले, जो अभी खर्च नहीं हो पाए न ही काम पूरा हुआ। 6 दिसम्बर 2018 को बिलासपुर एयरपोर्ट को भारत सरकार से कार्मिशियल फ्लाइट के लिए लाइसेंस मिल गया था।

डायरेक्टर जनरल आफ सिविल एविएशन ने लाइसेंस बाबत छत्तीसगढ़ सरकार और एयरपोर्ट आथरिटी को पत्र जारी कर दिया था। जिसके बाद से उम्मीद जताई जा रही थी की बहुत जल्द बिलासपुर की हवाई सेवा शुरू हो जाएगी। लेकिन इतना आसान भी नहीं था।

बता दें कि बिलासपुर में कारोबारियों और लोगों के लिए चकरभाठा में एयरपोर्ट बनाया गया था। जिसकी उड़ान पट्टी की लंबाई ज्यादा नही है। रायपुर और जगदलपुर के बाद छत्तीसगढ़ का ये तीसरा एयरपोर्ट है। लेकिन तमाम कमियों के कारण अभी तक ये शुरू नहीं हो पाया। इस प्रोजेक्ट में करोड़ो रूपये खर्च कर दिए गए। लेकिन फ्लाइट के लिए अब तक सर्वे का कार्य पूर्ण नहीं हो पाया है।

डायरेक्टर एयरपोर्ट चकरभाठा नागसम्प वीरेंद्र सिंह का कहना है कि काम पूरा नही हुआ है। डॉमेस्टिक फ्लाइट के लिए टाइम स्लॉट नहीं है। दरअसल यहां कस्टम्स विभाग उपस्थित नहीं है। इसका रनवे पेव्ड है। इसकी प्रणाली यांत्रिक नहीं है।अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार सबसे बड़ी खामी रनवे में है। एयरपोर्ट का रनवे इतना छोटा है कि एयरबस की सुविधा नही ली जा सकती।एयरपोर्ट अथॉरिटी ने किसी भी बातों का ध्यान नहीं दिया। इसका नये सिरे से विकास कार्य करने की जरूरत है। अब देखना होगा स्मार्ट सिटी को कब तक उड़ान सेवा मिल पाती है।