Home जिले जांजगीर-चांपा प्रशासनिक लापरवाही की भेंट चढ़ी गौठान योजना, 10 गायों की हुई मौत

प्रशासनिक लापरवाही की भेंट चढ़ी गौठान योजना, 10 गायों की हुई मौत

हेमंत पटेल@जांजगीर-चाम्पा। छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वपूर्ण योजना नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी पर प्रशासनिक ग्रहण लगता नज़र आ रहा है। जांजगीर जिले में अधिकारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। अव्यवस्था की वजह से ग्राम खोखरा के आदर्श गोठान में 10 गायों की मौत हो गई। हालांकि गायों की मौत की खबर सुनते ही प्रशासनिक […]

70

हेमंत पटेल@जांजगीर-चाम्पा। छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वपूर्ण योजना नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी पर प्रशासनिक ग्रहण लगता नज़र आ रहा है। जांजगीर जिले में अधिकारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। अव्यवस्था की वजह से ग्राम खोखरा के आदर्श गोठान में 10 गायों की मौत हो गई।

हालांकि गायों की मौत की खबर सुनते ही प्रशासनिक अधिकारियों की नींद उड़ गई है। मामला ग्राम खोखरा के आदर्श गोठान की है। जानकारी के मुताबिक आदर्श गोठान में बड़ी संख्या में गायों को रखा गया है, लेकिन गायों की देखभाल और रख-रखाव ठीक तरीके से नहीं हो रही थी।

ग्रामवासिेयों के मुताबिक इतनी बड़ी संख्या में गायों  को गोठान में रख तो लिया गया पर उचित व्यवस्थ के अभाव में उनकी मौत हो गई। ग्रामवासियों की माने तो गोठान में गायों को सही तरीके से चारा पानी नहीं दिया जा रहा था। इसके अलावा जहां पर मवेशियों को बांधा जाता था, वहां चारों तरफ गंदगी पसरी थी।

साथ ही गायों को धूप और बारिश से बचाने के लिए छायादार शेड भी नहीं लगे थे। इसकी वजह से मवेशियों को खूले आसमान के नीचे ही रहना पड़ रहा था। मवेशियों की मौत के बाद ग्रामीणों में प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ खासी नाराज़गी देखने को मिल रही है