Home ब्रेकिंग न्यूज़ चिप्स के सर्वर में फिर खराबी के कारण एडमिट कार्ड नही हो...

चिप्स के सर्वर में फिर खराबी के कारण एडमिट कार्ड नही हो रहा डाउनलोड,साइबर एक्सपर्ट के पास पहुंची शिकायत…

रायपुर. एडमिट कार्ड डाउनलोड कर पाने की खबरों के बाद पीईटी पीपीएचटी के परीक्षार्थी अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड करने की कोशिश में जुट गए कि अब वे निश्चिंत होकर परीक्षा दे पाएंगे । लेकिन चिप्स के सर्वर में फिर गड़बड़ी सामने आई है । 13 मई को साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा को कई बच्चों ने […]

168

रायपुर. एडमिट कार्ड डाउनलोड कर पाने की खबरों के बाद पीईटी पीपीएचटी के परीक्षार्थी अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड करने की कोशिश में जुट गए कि अब वे निश्चिंत होकर परीक्षा दे पाएंगे । लेकिन चिप्स के सर्वर में फिर गड़बड़ी सामने आई है ।

13 मई को साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा को कई बच्चों ने अपने एडमिट कार्ड सही तरह से डाउनलोड न हो पाने की शिकायत की । कई बच्चों ने पेमेंट करने के बाद भी एडमिट कार्ड डाउनलोड न कर पाने की शिकायत की है। बच्चों ने सबूत भी पेश किए जिसमे उनके पेमेंट स्टेटस सक्सेसफुल होने के स्क्रीनशॉट हैं वहीं जब एडमिट कार्ड डाउनलोड करने की कोशिश की तो वहां पेमेंट स्टेटस वेटिंग है । यानी कि जबतक वह स्टेटस सक्सेसफुल शो नही हो जाता बच्चे पेमेंट कर देने के बावजूद अपना एडमिट कार्ड डाऊनलोड नही कर पाएंगे । वहीं जिन बच्चों के एडमिट कार्ड डाउनलोड हो चुके हैं उनमें से कुछ बच्चों के एडमिट कार्ड में अधूरी डिटेल्स हैं ,किसी के एडमिट कार्ड में एग्जाम सेंटर का ही नाम गायब है तो किसी में पूरा का पूरा एडमिट कार्ड ही ब्लैंक है । जब ऐसी शिकायतों के बाद साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा ने खुद एडमिट कार्ड डाउनलोड करके चेक किया तो बच्चों की शिकायतें सही पाई गई ।

जब रायपुर औऱ आसपास के क्षेत्रों से कई बच्चे साइबर एक्सपर्ट के पास शिकायतें कर चुके हैं तो इससे इस बात का अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि पूरे प्रदेश भर से कितने परीक्षार्थियों के एडमिट कार्ड में गड़बड़ी होगी । अगर साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा तक यह शिकायतें नहीं पहुचीं होती तो शायद इस बार हज़ारों विद्यार्थी चिप्स की लापरवाही के कारण एग्जाम नही दे पाते ,क्योंकि बिना सही एडमिट कार्ड के उन्हें एग्जाम में बैठने नही दिया जाएगा । समस्या अब भी सामने बरकरार है , 16 मई को एग्जाम होने हैं और 13 मई को इस तरह की शिकायत मिलना अपने आप मे चिप्स की भारी लापरवाही दर्शाता है ,ऐसे में ज़रूरी है कि एग्जाम की तिथि से पहले या तो सभी बच्चों को उनके सही एडमिट कार्ड मुहैया कराए जाएं अथवा फिर से चिप्स की लापरवाही के चलते एग्जाम की डेट्स बढ़ानी पड़ सकती हैं ।

साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा का कहना है कि इस तरह की बार बार लापरवाही से साफ होता है कि चिप्स में भारी लापरवाही की जा रही है , वहां का वर्किंग स्टाफ या तो काम मे कोताही बरत रहा है या फिर उन्हें काम ही नही आता । व्यापम की वेबसाइट का होम पेज भी ‘नॉट सेक्योर’ शो हो रहा है , जिससे साफ है कि अगर यही हाल रहा तो इसपर आसानी से हैकिंग अटैक्स किए जा सकते हैं , फिर अगर दूसरे एक्जाम्स में भी व्यवधान आता है तो फिर इसके लिए कौन जिम्मेदार होगा ? ज़रूरी है कि शासन इस ओर गंभीरता से ध्यान दे और जल्द से जल्द अनुभवी साइबर फोरेंसिक एक्सपर्ट्स द्वारा चिप्स का सिक्योरिटी ऑडिट एवम परफॉरमेंस – एफिशिएंसी ऑडिट करवाए ताकि इस तरह की तमाम गड़बड़ियां एक बार मे ही सामने आजाएं और वक्त रहते उनका हल भी निकाला जा सके ताकि परीक्षार्थियों को इस तरह की मानसिक प्रताड़ना से राहत मिल सके ।