छत्तीसगढ़

Chhattisgarh: मोदी सरकार और ट्विटर विवाद: राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय ने चेंज की प्रोफाइल, राहुल गांधी की लगाई तस्वीर

रायपुर। (Chhattisgarh) कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय ने ट्विटर द्वारा कांग्रेस के आधिकारिक अकाउंट समेत राहुल गांधी और कई बड़े कांग्रेस नेताओं के अकाउंट को ब्लाॅक किये जाने को पक्षपातपूर्ण कार्रवाई बताते हुए आरोप लगाया कि ट्विटर मोदी सरकार के दबाव पर काम कर रही है। उन्होंने एक पीड़िता को लेकर उठे विवाद पर कहा, रेप पीड़िता को अपनी पहचान क्यों छिपानी चाहिए। क्या पीड़िता के लिए ये शर्म की बात है कि वह क्रूरता की शिकार हुई और ऐसा है तो मोदी सरकार को शर्म आनी चाहिये जो नाबालिगों पर हो रहे अत्याचार को रोकने नकाम साबित हो रही है।

(Chhattisgarh) विकास उपाध्याय ने मोदी सरकार के खिलाफ ट्विटर द्वारा कांग्रेस के 5000 से भी ज्यादा अकाउंट को ब्लाॅक किये जाने के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए अपने अकाउंट का भी प्रोफाइल पिक्चर बदल कर राहुल गांधी का लगा दिया है और कहा कि ट्विटर भी अब मोदी मीडिया में निर्दोष महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए न ही ट्विटर पर निर्भर रहने की जरूरत है और न ही मोदी सरकार पर अब इसका न्याय जनता की अदालत पर ही हो कर रहेगी। विकास उपाध्याय ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी द्वारा ट्विट किए बातों को दोहराते हुए कहा कि बीजेपी सरकार ट्विटर के साथ मिलकर न्याय की गुहार लगाती आवाजों को दबा रही है। तब ये नहीं भुलना चाहिये कि असल मुद्दा क्या है। (Chhattisgarh) असल मुद्दा ये है कि 9 साल की दलित बच्ची के साथ बर्बल बलात्कार और जबरन दहासंस्कार के मामले में दिल्ली पुलिस ने 15 घंटो तक एफआईआर दर्ज नहीं होने दी।

Ambikapur: सिरफिरे व्यक्ति ने एएसआई पर किया हमला, जब सूचना पर पहुंची पुलिस, बंद कमरे को खोलते ही पुलिस पर अटैक…..

विकास उपाध्याय ने कहा, कांग्रेस नेता राहुल गांधी देश में उन ज्वलंत हालातों को ट्विटर के माध्यम से ट्विट कर लगातार अपनी भावनाओं से बयां कर रहे हैं। जिससे मोदी सरकार घबराई हुई है और जो मोदी सरकार कल तक ट्विटर के खिलाफ बातें कर सवाल उठा रही थी, उसी ट्विटर को अब अपने प्रभाव में ले लिया है। इस तरह से विकास उपाध्याय ने आरोप लगाया कि ट्विटर भी मोदी मीडिया की श्रेणी में शामिल हो गया है। विकास उपाध्याय ने आगे कहा, रेप पीड़िता को अपनी पहचान क्यों छिपानी चाहिये, क्या पीड़िता के लिए ये शर्म की बात है, कि वह क्रूरता की शिकार हुई है। बल्कि बलात्कारियों को नहीं छिपानी चाहिये जो अपनी घिनौनी तस्वीर से समाज को कलंकित कर रहे हैं। उन्होंने कहा, 9 साल की बच्ची की रक्षा करने में असफल रही दिल्ली पुलिस पर सवाल उठना लाजमी है और आगे भी कांग्रेस इस तरह के मामलों में निश्चित तौर पर मुखर होते रहेगी। उन्होंने चेतावनी दी कि ट्विटर और मोदी सरकार रोक सके तो रोक ले।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: