Chhattisgarh

Chhattisgarh: स्वास्थ, जागरुकता के साथ सामरिक सामाजिक उत्थान में जिन्दल स्टील की भी भागीदारी, मंत्री ने कहा- कुपोषण मुक्त बनाने प्रत्येक व्यक्ति, परिवार, समाज, संगठन का सहयोग जरूरी

रायपुर। (Chhattisgarh) महिला एवं बाल विकास मंत्री  अनिला भेंड़िया की अगुवाई में ‘गढ़बो नवा सुपोषित छत्तीसगढ़‘ के संकल्प के साथ आज राजधानी रायपुर के तेलीबांधा स्थित मरीन ड्राइव से विशाल साइकिल रैली निकली। रैली में छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ.किरणमयी नायक, रायपुर नगर पालिक निगम के सभापति प्रमोद दुबे, महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव रीना बाबा साहेब कंगाले, संचालक दिव्या उमेश मिश्रा,यूनिसेफ के स्टेट हेड जॉब जकारिया सहित राष्ट्रीय सेवा योजना, छत्तीसगढ़ साइकिल क्लब, सहित विभिन्न स्वयं सेवी संगठनों के प्रतिनिधि, विभागीय अधिकारी कर्मचारी और बड़ी संख्या में युवा शामिल हुए।

पोषण माह के अवसर पर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh)को कुपोषण-एनीमिया से मुक्त बनाने,लोगों में सुपोषण के प्रति जागरूकता और व्यवहार परिवर्तन लाने के उद्देश्य से महिला एवं बाल विकास विभाग और सहयोगियों द्वारा साइकिल साइकिल रैली का आयोजन किया गया  पूरे देश सहित छत्तीसगढ़ में कुपोषण के प्रति जन-जन तक जागरूकता फैलाने पोषण माह का आयोजन किया जा रहा है। लोगों की जागरूकता के लिए आयोजित यह रैली छोटी है पर इसका संकल्प बहुत बड़ा है।

Dhamtari: कोटेश्वर धाम के लिए मुख्यमंत्री की घोषणा, प्रसंस्करण और प्रशिक्षण के लिए खुलेगा केंद्र

भेंड़िया ने कहा कि  छत्तीसगढ़(Chhattisgarh) में बच्चों से कुपोषण और महिलाओं से एनीमिया दूर करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बधेल की पहल पर शुरू हुआ मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान पूरे देश में उदाहरण है। बहुत खुशी और गर्व की बात है कि इस अभियान के कारण छत्तीसगढ़ में हर साल बड़ी संख्या में बच्चे कुपोषण से मुक्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि कुपोषण मुक्ति हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी है। सभी प्रतिज्ञा ले कि हर व्यक्ति, परिवार, संस्था और समाज को इस कुपोषण मुक्ति के अभियान से जोड़ेंगे। जन-जन तक कुपोषण मुक्ति की आवाज पहुंचे, जिससे देश से कुपोषण और एनीमिया से ग्रसित नौनिहाल और महिलाओं से कुपोषण दूर हो सके। इसमें सरकार और विभाग के साथ, संस्थानों सहित सभी लोगों का सहयोग और भागीदारी जरूरी है, जिससे छत्तीसगढ सुपोषण और विकास की राह पर आगे बढ़े। यहां अभियान से जुड़ने तथा संस्थानों की सोच को बढाते हुए छत्तीसगढ के उद्योग के प्रतिमान जिन्दल समूह से उदय प्रताप सिेंह तथा सुयश शुक्ल भी प्रतिभागी के रूप में उपस्थित थे। उदय प्रताप से पूछने पर ज्ञात हुआ की वे सी3 समूह के बुलावे पर आए हैं। इस अवसर पर प्रमोद दुबे ने स्वच्छता और सुपोषण का संदेश देते हुए कहा कि, अपने शहर का स्वच्छ और सुरक्षित बनाने के लिए सभी जागरूक रहें। 

Ambikapur: शराब दुकान पर स्थानीय लोगों ने जड़ा ताला, कई बार कर चुके हैं प्रदर्शन, फिर जो हुआ…

कार्यक्रम में बालिका गृह की बालिकाओं ने हरी झंडी दिखाकर रैली का शुभारंभ किया। तिरंगे गुब्बारे छोड़ने के साथ रैली तेलीबांधा मरीन ड्राइव से शुरू होकर शास्त्री चौक, मेकाहारा, भारत माता चौक होते हुए वापस मरीन ड्राइव  पहुंची।सुपोषण जागरुकता रैली में रायपुर शहर के सभी साइकिल राइडर्स ग्रुप, पुलिस प्रशासन,स्कूल एवं कॉलेज के छात्र= छात्राओं, एन.एस.एस.,खेल एवं युवा कल्याण विभाग, विभिन्न खेल संघों के प्रतिनिधिगण, एनआरडीए, अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं  जैसे यूनिसेफ, वर्ल्डविजन, एविडेंस एक्शन,कॉमन सर्विस सेंटर, न्यूट्रिशन इंटरनेशनल, डेकाथलन  सहित व्यापारिक संगठनों का सहयोग रहा ।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: