Home जिले चक्रधर समारोह में लोक वाद्य यंत्रों ने बांधा समा… तबला वादकों ने...

चक्रधर समारोह में लोक वाद्य यंत्रों ने बांधा समा… तबला वादकों ने दर्शकों को किया मंत्रमुग्ध…

शशिकांत यादव@रायगढ़. चक्रधर समारोह में नौवें दिन रिखी छत्रिय एवं उनकी टीम द्वारा लोकवाद्यों की अनोखी जुगलबंदी की प्रस्तुति दी गई। विभिन्न प्रकार के वाद्य यंत्रों जैसे ढोलक, खंजेरी, तंबूरा, चटकोला, धनकुल, दफड़ा, झुनझुना, मांदरी, मोहरी और बांसुरी को एक साथ बजाकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। दर्शकों ने वाद्य यंत्रों से ससुराल गेंदा फूल […]

52
चक्रधर समारोह में लोक वाद्य यंत्रों ने बांधा समा तबला वादकों ने दर्शकों को किया मंत्रमुग्ध

शशिकांत यादव@रायगढ़. चक्रधर समारोह में नौवें दिन रिखी छत्रिय एवं उनकी टीम द्वारा लोकवाद्यों की अनोखी जुगलबंदी की प्रस्तुति दी गई। विभिन्न प्रकार के वाद्य यंत्रों जैसे ढोलक, खंजेरी, तंबूरा, चटकोला, धनकुल, दफड़ा, झुनझुना, मांदरी, मोहरी और बांसुरी को एक साथ बजाकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। दर्शकों ने वाद्य यंत्रों से ससुराल गेंदा फूल और सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा गीत सुनकर खूब तालियां बजाईं।

इसके बाद पंडित गजेंद्र कुमार पंडा और आर्या नंदे ने ओड़ीसी नृत्य की प्रस्तुति दी। उनकी टीम के द्वारा भगवान शिव के अद्र्धनारीश्वर स्वरूप पर ओड़ीसी नृत्य के माध्यम से प्रस्तुति दी गई। मुम्बई से आई युवा बांसुरी वादक पलक जैन ने कई गीतों की धुन पर बांसुरी बजाकर समां बांध दिया। पलक ने ऐ मेरे वतन के लोगों और अन्य गीत बांसुरी से लोगों को सुनाए। पद्मश्री विजय घाटे के तबला वादन ने दर्शकों का मन मोह लिया। गौतम चौबे ने छत्तीसगढ़ी लोकगाथा लोरिक चंदा की प्रस्तुति दी।

कार्यक्रम का शुभारंभ सारंगढ़ विधायक उत्तरी गनपत जांगड़े एवं रायगढ़ विधायक प्रकाश नायक ने महाराजा चक्रधर के चित्र पर पुष्प अर्पित कर एवं दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर कलेक्टर यशवंत कुमार, पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह, जिला पंचायत सीईओ ऋचा प्रकाश चौधरी सहित गणमान्य नागरिक एवं जनसामान्य उपस्थित थे.