कांकेर (उत्तर बस्तर)

Cattle gathering: आवारा मवेशियों की बढ़ती संख्या नई आफत, आए दिन हो रही दुर्घटनाएं, फेल हुआ रोका छेका अभियान

देवाशीष विस्वास@पखांजूर। (Cattle gathering) नगर पंचायत क्षेत्र में रोका छेका अभियान बेअसर दिखाई दे रहे हैं. रात को पखांजूर के मुख्य सड़क स्टेट हाइवे क्रमांक 25 में मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है. जिसकी वजह से आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है.

(Cattle gathering) छत्तीसगढ़ राज्य सरकार जुलाई माह के पहली तारीख से रोका छेका अभिया चला रहे हैं. इस अभियान के अंतर्गत संबंधित क्षेत्र के पंचायत, नगर पंचायत एवं नगर पालिका द्वारा आवारा मवेशियों को गौठान एवं कांजी हाउस में रखने के लिए छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने निर्देशित किया है. मगर नगर पंचायत पखांजूर क्षेत्र में रोका छेका अभियान सम्पूर्ण असफल रहा है. (Cattle gathering)  नगर पंचायत के सामने ही आवारा मवेशियों की जमावड़ा लगा रहता हैं. पखांजूर नगर के हर एक सड़क पर आवारा मवेशिया रात को सोते दिखाई दे रहे हैं. इस कारण आये दिन सड़क दुर्घटना होता हैं एवं दुर्घटना से राहगीर एवं मवेशी भी सड़क दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं।

डीवाईएफआई  के अध्यक्ष हरपाल सिंह एवं शिवसेना सचिव तनुज चंदा ने बताया कि रोका-छेका अभियान पखांजूर नगर पंचायत में बेअसर दिखाई दे रहे हैं. इस वजह से आये दिन सड़क दुर्घटना हो रहा है. नगर पंचायत तत्काल रोका छेका अभियान को गंभीरता से लेते हुए आवार मवेशियों को कांजी हाउस में डाले, ताकि सड़क दुर्घटना से लोगो एव मवेशिया तथा किसानों का फसल सुरक्षित रहे।

वही इस संबंध में पखांजूर नगर पंचायत के सीएमओ अरविंद नाथ योगी ने बताया कि रोजाना आवारा मवेशियों को कांजी हॉउस में डाला जा रहा है जबकि नगर पंचायत के कांजी हॉउस में एक भी मवेशी देखा नहीं गया है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: