Home जिले ओपी जिंदल यूनिवर्सिटी में 91% छात्रों का कैंपस प्लेसमेंट, यूनवर्सिटी ने सेट...

ओपी जिंदल यूनिवर्सिटी में 91% छात्रों का कैंपस प्लेसमेंट, यूनवर्सिटी ने सेट किया बेंचमार्क

रायगढ़. ओपी जिंदल विश्वविद्यालय, रायगढ़ ने एक शैक्षिक वर्ष में 91% योग्य छात्रों का कैंपस प्लेसमेंट बड़ी संख्या में राष्ट्रीय और बहु-राष्ट्रीय कंपनियों में करके, छत्तीसगढ़ राज्य में एक मानदंड स्थापित किया है। विश्वविद्यालय में स्टील सेक्टर, आईटी सेक्टर, टेलीकॉम सेक्टर, एविएशन, बैंकिंग, रिटेल, सिविल कंस्ट्रक्शन, पॉवर जनरेशन एंड मैनेजमेंट, एवं ऑटोमोबाइल सेक्टर जैसे विभिन्न […]

182

रायगढ़. ओपी जिंदल विश्वविद्यालय, रायगढ़ ने एक शैक्षिक वर्ष में 91% योग्य छात्रों का कैंपस प्लेसमेंट बड़ी संख्या में राष्ट्रीय और बहु-राष्ट्रीय कंपनियों में करके, छत्तीसगढ़ राज्य में एक मानदंड स्थापित किया है।

विश्वविद्यालय में स्टील सेक्टर, आईटी सेक्टर, टेलीकॉम सेक्टर, एविएशन, बैंकिंग, रिटेल, सिविल कंस्ट्रक्शन, पॉवर जनरेशन एंड मैनेजमेंट, एवं ऑटोमोबाइल सेक्टर जैसे विभिन्न क्षेत्रों के 65 से अधिक कम्पनीज ने सत्र 2018-19 के दौरान प्लेसमेंट ड्राइव आयोजित कर बड़ी संख्या में छात्रों की भर्ती की। ओपी जिंदल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. आर. डी. पाटीदार ने अच्छे प्लेसमेंट को उल्लेखनीय उपलब्धि के रूप में बताते हुए कहा कि यह वर्ष ओपीजेयू में कैंपस प्लेसमेंट के लिए पॉजिटिव सीज़न  था।

अब तक 65 कंपनियां उन छात्रों के लिए कैंपस प्लेसमेंट के लिए आई हैं, जो 2019 में स्नातक पढाई पूरी कर रहे हैं। स्टील सेक्टर से जेएसपीएल, जेएसडब्ल्यू, आईटी सेक्टर से टीसीएस (टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज), विप्रो, कॉग्निजेंट; एवं अन्य मुख्य इंजीनियरिंग कंपनियों टाटा मोटर्स, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया, क्रेसेंट इंजीनियर्स, चापेकर कंस्ट्रक्शन आदि अपने- अपने क्षेत्र की शीर्ष कंपनियों ने OPJU में अपने कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव का आयोजन किया और इंजीनियरिंग छात्रों का चयन किया। कोर इंजीनियरिंग कंपनियां मुख्य भर्तीकर्ता थीं जिन्होंने प्लेसमेंट सत्र के दौरान 91 % से अधिक योग्य छात्रों को प्लेसमेंट दिया।

इस वर्ष कैंपस प्लेसमेंट के लिए विश्वविद्यालय आने वाली कंपनियों की संख्या में वृद्धि हुई है जो की उस शिक्षा की गुणवत्ता का समर्थन है जिसे हम अपने छात्रों को प्रदान कर रहे हैं। ओपी जिंदल विश्वविद्यालय के कैरियर सर्विसेस प्रकोष्ठ के निदेशक, प्रो. ज्योति नायर ने बताया कि 90 % योग्य छात्रों के प्लेसमेंट के साथ इस वर्ष इंजीनियरिंग और प्रबंधन के छात्रों के प्लेसमेंट ने नई बुलंदियों को छुआ है। कैंपस प्लेसमेंट के दौरान नई प्रतिभाओं की भर्ती के लिए इंटरबिज कंसल्टिंग, कॉलबेरा, पिंक्लिक कंसल्टिंग, टेकमेंट, बिगविग मीडिया, जस्ट डायल, पी चेन, माइंड ट्री, अपील ग्रुप, बेजुज, जायसवाल नेको, सन फ्लैग आयरन स्टील, गो स्पीडी गो, डिक्सॉन, मान एल्युमीनियम लिमिटेडऔर कोगनिसिअ आदि उन 65 कंपनियों में शामिल थीं, जिन्होंने ओपी जिंदल विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट के छात्रों का चयन किया।

उन्होंने आगे कहा कि 2018-19 के लिए कैंपस प्लेसमेंट ने 40% से अधिक की छलांग दर्ज की और अब तक 91% योग्य छात्रों का चयन हुआ है। इस वर्ष छात्रों को प्राप्त होने वाला उच्चतम वेतन पैकेज सात लाख रुपये वार्षिक और औसत पॅकेज 4.75 लाख रूपये वार्षिक था। प्रो. नायर ने यह भी जानकारी साझा की कि 40% छात्रों का IT सेक्टर, 24% विनिर्माण में, 22% मार्केटिंग में, 11% Infrastructure में और 3% अन्य क्षेत्रों में चयन हुआ है।

विश्वविद्यालय के शिक्षण पद्धति की बात करते हुए डॉ. पी.एस. बोकारे, डीन, स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग ने कहा की, “विश्वविद्यालय के पास एक अच्छा और उन्नत बुनियादी ढांचा है और प्रयोगशाला और कक्षाओं की गुणवत्ता अच्छी है। शिक्षण पद्धति अनुभवात्मक अधिगम पर आधारित है और छात्रों को इंटर्नशिप, औद्योगिक प्रशिक्षण और कार्यशालाओं के माध्यम से अधिक जानने का अवसर मिलता है। सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, मेटालर्जिकल एन्ड मटेरियल्स इंजीनियरिंग (एमएमई), कंप्यूटर साइंस एन्ड इंजीनियरिंग, और इलेक्ट्रिकल एन्ड इलेक्ट्रोनिक्स इंजीनियरिंग के सभी तीसरे वर्ष के छात्र प्रतिष्ठित संगठनों और कंपनियों में इंटर्न के रूप में काम कर रहे हैं।

डीआरडीओ, नई दिल्ली और हैदराबाद में मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल एन्ड इलेक्ट्रोनिक्स इंजीनियरिंग छात्रों को रिसर्च इंटर्न के रूप में चुना गया है; मैकेनिकल और कम्पयूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग के छात्र सीमेंस इंडिया में इंटर्न हैं और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और कंप्यूटर एडेड डिजाइन के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। तीसरे वर्ष के छात्र श्रृंजय स्नेह को मेटलमैन ऑटो प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली से कंपनी के लिए उद्योग 4.0 के क्षेत्र में काम करने के लिए प्री-प्लेसमेंट ऑफर मिला है।डीआरडीओ, सीमेंस इंडिया, टाटा स्टील और जिंदल समूह की कंपनियों- जेएसपीएल, जेपीएल, जेएसएल और जेएसडब्ल्यू के अलावा 50 से अधिक कंपनियों ने इंजीनियरिंग छात्रों को इंटर्नशिप के अवसरों की पेशकश की है।

कुछ प्रतिष्ठित संगठन जहां ओपीजेयू के छात्र अपनी इंटर्नशिप कर रहे हैं, वे हैं वोल्वो आयशर कमर्शियल व्हीकल, आयशर मोटर्स, टाटा मोटर्स, डी एंड एच सेचरन, कैपजेमिनी, फ्रोनियस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, मेटलमैन ऑटो लिमिटेड, लार्सन एंड टुब्रो, तुलसी और कोर, इंडो -डिनिश टूल रूम, नेको इंडस्ट्रीज, हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड, होंडा, एनटीपीसी, टाटा एयरोस्पेस लिमिटेड, भिलाई स्टील, भारतीय रेलवे, मारुति, यामाहा, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया, एलएंडटी, अशोका लिटिलकन, स्टेट अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी (एसयूडीए), और अविनाश ग्रुप्स आदि हैं। मेटालर्जिकल एन्ड मटेरियल्स इंजीनियरिंग (एमएमई) के छात्र टाटा स्टील, एनएम एल जमशेदपुर, मान एलुमिनियम, वेदांता और मिनेक्स स्टील्स में भी अपनी इंटर्नशिप पूरी कर रहे हैं।

डॉ. शेषादेव नायक, एसोसिएट डीन, स्कूल ऑफ मैनेजमेंट ने बताया कि मैनेजमेंट के छात्रों ने अपनी कार्य योग्यता के बल पर बहुत कम समय में अपनी पहचान बना चुके हैं। विश्वविद्यालय के एमबीए के छात्रों को जेएसपीएल, कोटक महिंद्रा, टाटा रिफ्रेक्टरीज टीआरएल, पीयरलेस कोलकाता, अमेज़ॅन, रत्न और आभूषण, टॉरस म्यूचुअल फंड, महिंद्रा जैसे प्रतिष्ठित संगठनों में इंटर्नशिप के लिए चुना गया है। यह सर्वविदित है कि रायगढ़ के पुंजिपथरा स्थित ओपी जिंदल विश्वविद्यालय की स्थापना 2014 में (राज्य बिल अधिनियम 13) देश के प्रतिष्ठित औद्योगिक समूह – जिंदल ग्रुप द्वारा देश और विदेश के छात्रों को विश्व स्तरीय शिक्षा और प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से की गई थी। वर्तमान समय में विश्वविद्यालय में यूजीसी और एआइसीटीई द्वारा अनुमोदित बीटेक (मैकेनिकल इंजीनियरिंग, कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और मैटलर्जिकल एंड मैटेरियल्स इंजीनियरिंग), एम.टेक. (स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग, पावर प्लांट इंजीनियरिंग एंड एनर्जी मैनेजमेंट, कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग, मैटेरियल साइंस एंड टेक्नोलॉजी और पावर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड पावर सिस्टम्स), बीबीए, एमबीए, बीएससी, एमएससी और पीएचडी कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं।