Home जिले दस्तावेजी सबूतों के उजागर होने के बाद भी कांग्रेस के फैसलों से...

दस्तावेजी सबूतों के उजागर होने के बाद भी कांग्रेस के फैसलों से बौखलाकर भाजपा झूठ और भ्रम फैला रही: शैलेश नितिन त्रिवेदी

रायपुर. भाजपा और भाजपा के सहयोगी दलों के द्वारा की जा रही स्तरहीन राजनैतिक बयानबाजी पर कड़ा ऐतराज जताते हुये कांग्रेस ने और नफरत फैलाने वाली शब्दावली का उपयोग करने की जा रही बयानबाजी को कांग्रेस सरकार के खिलाफ सुनियोजित साजिश का हिस्सा बताया है. भाजपा और उसके सहयोगी दलो पर कड़ा प्रहार करते हुये […]

218
shailesh nitin trivedi
shailesh nitin trivedi

रायपुर. भाजपा और भाजपा के सहयोगी दलों के द्वारा की जा रही स्तरहीन राजनैतिक बयानबाजी पर कड़ा ऐतराज जताते हुये कांग्रेस ने और नफरत फैलाने वाली शब्दावली का उपयोग करने की जा रही बयानबाजी को कांग्रेस सरकार के खिलाफ सुनियोजित साजिश का हिस्सा बताया है.

भाजपा और उसके सहयोगी दलो पर कड़ा प्रहार करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि बैलाडीला के 13वें निक्षेप के आबंटन में लगातार भाजपा की केन्द्र सरकार और राज्य की पूर्व रमन सरकार की भूमिका के दस्तावेजी सबूतो उजागर हो जाने के बावजूद भाजपा और भाजपा के सहयोगी दलों ने कांग्रेस सरकार पर पेड़ काटने की अनुमति देने का झूठा आरोप लगाया है

11 जनवरी 2018 को छत्तीसगढ़ शासन के प्रधान मुख्य वन संरक्षक के कार्यालय के पं. क्रमांक 14/उत्पा.1/74 की प्रति जारी करते हुये प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि दूसरी बार दस्तावेजी सबूतों से यह प्रभावित हो गया है कि शीर्ष भाजपा नेताओं और रमन सिंह द्वारा भी सच्चाई के खिलाफ गलतबयानी की जा रही है. इसके पहले कांग्रेस ने पत्रकारवार्ता लेकर एनसीएल की क्रोनोलाजी आफ इवेट का दस्तावेज 8 जून 2019 को जारी किया था.

रमन सिंह सरकार के द्वारा दी गयी 315.813 हेक्टेयर में से 83.503 हेक्टेयर में स्थित 25000 नग पेड़ काटने की अनुमति को कांग्रेस सरकार में माथे पर मढ़ने की कोशिशों का कड़ा प्रतिवाद करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि अडानी बैलाडीला में लोहा खदान देने में पग-पग में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली रमन सिंह जी कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाकर  “सुपा बोले तो बोले चलनी भी बोले जिसमें बहत्तर छेद” की कहावत को चरितार्थ कर रहे है.

भाजपा के सहयोगी दल एक सोची समझी साजिश के तहत कांग्रेस सरकार के खिलाफ इस साजिश में भाजपा के शीर्ष नेताओं के सुर में सुर मिला रहे हैं. कन्यादान योजना में राशि बढ़ाकर 15000 रू. से 25000 रू. करने और आबंटन के दोहराव और वित्तीय अनियमितताओं और घोटाले को रोकने के लिये एक ही विभाग महिला एवं बाल विकास से राशि दिये जाने के फैसले को भाजपा और भाजपा के सहयोगीयों द्वारा इस तरह से प्रचारित किया गया जिससे ऐसा लगा कि मानो यह योजना बंद कर दी गयी है.जबकि हकीकत यह है कि कन्यादान योजना में कांग्रेस की भूपेश बघेल की सरकार द्वारा राशि बढ़ाकर 15000 रू. से 25000 रू. की गयी है.

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि इसी तरह से घटिया क्वालिटी के ट्रांसफार्मर और अन्य विद्युत उपकरणों की रमन सिंह सरकार में की गयी खरीदी के कारण इनके जलने खराब होने और ओवरलोड के कारण ट्रिप होने और प्रीमानसून मेंटेंनेस को पूरी भाजपा सुनियोजित रूप से पावर कट के रूप में प्रचारित करने में जुट गयी है.

परिस्थितियो को बिगाड़ने के लिये प्रीमानसून मेंटेंनेन्स, ओवरलोड ट्रिपिंग या घटिया क्वालिटी विद्युत के उपकरणों के बार-बार खराब होने के कारण बिजली चले जाने को रमन सिंह जी के 15 वर्षो के शासनकाल में विद्युत मंडल में घुसाये गये संघी अधिकारी झूठमूठ में पावर कट कहकर विद्युत मंडल ही के खिलाफ दुष्प्रचार में लगे हुये है. कांग्रेस सरकार ने तो प्रदेश में बिजली की मांग से ज्यादा उत्पादन के द्वारा कीर्तिमान स्थापित किया है जिससे बौखलाकर जनविरोधी रवैय्ये के उजागर होने से डूबती हुयी भाजपा द्वारा हर मामले में झूठ के तिनके को सहारा बनाया जा रहा है.