Uncategorized

Bilaspur: शहर कांग्रेस कमेटी की 21 सदस्यीय कार्यकारिणी ने किया प्रस्ताव पारित, अनुशासनात्मक कार्रवाई एवं पार्टी से 6 साल तक निष्कासित करने की सिफारिश

बिलासपुर। (Bilaspur) प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएएस सिंहदेव के करीबी बिलासपुर के कांग्रेस विधायक शैलेष पाण्डेय के खिलाफ कोतवाली के घेराव और सरकार के ख़िलाफ़ बयान पर अनुशासनात्मक कार्रवाई एवं पार्टी से निष्कासित करने की सिफ़ारिश जिला (शहर) कांग्रेस कमेटी ने की है।

(Bilaspur) गुरुवार को हुई शहर कांग्रेस कमेटी की मीटिंग में यह मुद्दा छाया रहा। लोगों का कहना था कि पंकज सिंह कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं उन्हें लेकर किसी तरह की बात नहीं है। लेकिन, कांग्रेस पार्टी के विधायक होने के बावजूद शैलेश पांडे ने जिस तरह इस मामले में बयान दिया है वह आपत्तिजनक है और इस पर कार्यवाही होनी चाहिए।

Raipur के कचना इलाके के आदित्य फोम में लगी भीषण आग, घर से निकलकर बाहर भागे आसपास के लोग, दूर तक दिखी आग की लपटे

(Bilaspur) बैठक में शहर कांग्रेस कमेटी की 21 सदस्यीय कार्यकारिणी ने प्रस्ताव पारित किया कि इस मामले में विधायक शैलेश पांडे के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जानी चाहिए। उन्हें पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित किया जाना चाहिए।

इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, शहर कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद नायक, महापौर रामशरण यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण चौहान, कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय, राजेंद्र शुक्ला, नरेंद्र बोलर सहित कार्यकारिणी के सदस्य मौजूद थे।

जानिए क्या है पूरा मामला

दरअसल कांग्रेस नेता पंकज सिंह के साथ सिम्स में हुए कथित विवाद को लेकर कोतवाली थाने में एफआईआर दर्ज हुआ था। इस दौरान जमकर नारेबाजी भी हुई थी। पत्रकारों से बातचीत के दौरान विधायक शैलेश पांडे ने कहा था कि हम हम लोग टीएस सिंहदेव के आदमी हैं….. क्या इसलिए चुन-चुन कर पुलिस हमें ठोंक रही है। उन्होंने यह भी कहा था कि ऊपर के निर्देश पर इस तरह की अन्यायपूर्ण कार्रवाई की जा रही है।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: