बीजापुर

Bijapur: लाल आतंक का रास्ता छोड़कर सामान्य जीवन में लौटा माओवादी, 3 लाख के इनामी नक्सली ने पुलिस के सामने किया आत्मसमर्पण, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर था सक्रिय, कई वारदातों को दे चुका हैं इंजाम

दंतेश्वर कुमार@बीजापुर। (Bijapur)बस्तर क्षेत्र में सुरक्षाबलों के द्वारा चलाए जा रहे लोनू वर्राटू अभियान से प्रेरित होकर नक्सली हिंसा का रास्ता छोड़कर सामान्य जीवन की ओर लौट रहे हैं। स्वतंत्रता दिवस के दिन एक नक्सली लाल आतंक को छोड़कर पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया। (Bijapur)आत्मसमर्पित नक्सली पर 3 लाख का इनाम था।

Rape: 3 महीने की बच्ची से रेप, 17 साल का लड़का रोती बच्ची को करा रहा था चुप, मां पहुंची तो वहां से लौटा, नहलाने के दौरान खुला पोल, आरोपी फरार

इनामी नक्सली भामरागढ प्लाटून नम्बर 07 के सेक्शन कमांडर था। आत्मसमर्पित नक्सली का नाम मंगल कुंजाम  है। (Bijapur)महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ सीमावर्ती के बड़े वारदातों में लंबे समय तक नक्सल संघठन घटनाओं में सक्रिय रहा ।

Suicide Attempt: कांस्टेबल ने खुद को मारी गोली, सुबह सैर पर निकले युवक ने पुलिस को दी जानकारी, कांस्टेबल ने देखा तो बेहोश था पुलिसकर्मी, हालत गंभीर

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: