देश - विदेश

Air India की घर वापसी, 68 साल बाद Tata Sons के हिस्से आई एयरलाइन, लगाई 18,000 करोड़ रुपए की बोली

नई दिल्ली। Tata Sons अब सरकारी एयरलाइंस Air India के लिए सबसे अधिक 18,000 करोड़ रुपये की बोली लगाई. इसी के साथ अब Tata Sons के पास देश में 3 एयरलाइंस होंगी. Air India का मालिकाना हक मिलने के बाद नए मालिक को इससे जुड़े नाम और लोगो को 5 साल तक संभाल कर रखना होगा.

सरकार की ओर से शुक्रवार को Air India कk ‘नया महाराजा’ Tata Sons को चुने जाने की मुनादी कर दी गई. सरकार के विनिवेश कार्यक्रम की जिम्मेदारी देखने वाले विभाग DIPAM के सचिव तुहिन कांत पांडे और और नागर विमानन मंत्रालय सचिव राजीव बंसल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी. इस दौड़ में टाटा संस के अलावा SpiceJet के अजय सिंह के नेतृत्व वाला कंसोर्टियम भी शामिल था.

Ambikapur: आजाद सेवा संघ ने जिले के एसपी को सौंपा ज्ञापन, जानिए वजह

Air India के लिए Tata Sons ने 18,000 करोड़ रुपये की बोली लगाई. वहीं इस दौड़ में शामिल अजय सिंह के कंसोर्टियम ने 15,100 करोड़ रुपये की बोली लगाई. इस तरह Tata Sons ने 2,900 करोड़ रुपये से ज्यादा के अंतर से Air India के मालिकाना हक के लिए लगाई बोली को जीत लिया.

पांडे ने बताया कि Tata Sons चाहे तो 5 साल बाद Air India के नाम और लोगो को ट्रांसफर कर सकती है, लेकिन इसमें एक शर्त रखी गई है कि ये नाम और लोगो किसी भारतीय इकाई या व्यक्ति को ही दिया जा सकेगा. कोई भी विदेशी व्यक्ति या इकाई इसे हासिल नहीं कर सकेगी.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: