देश - विदेश

बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने केंद्र पर फिर साधा निशाना, कहा- अग्निवीर पेंशन पाने के हकदार नहीं तो खुद की पेंशन छोड़ने को तैयार

नई दिल्ली. भाजपा सांसद वरुण गांधी ने अनुबंध के आधार पर सशस्त्र रक्षा कर्मियों की भर्ती के लिए सरकार की नई ‘अग्निपथ’ योजना को लेकर शुक्रवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। गांधी ने अग्निशामकों को पेंशन का प्रावधान नहीं करने की सरकार की योजना पर सवाल उठाया।

बीजेपी सांसद ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, कि अल्पावधि की सेवा करने वाले अग्निवीर पेंशन के हकदार नही हैं तो जनप्रतिनिधियों को यह ‘सहूलियत’ क्यूँ? राष्ट्ररक्षकों को पेन्शन का अधिकार नही है तो मैं भी खुद की पेन्शन छोड़ने को तैयार हूँ। क्या हम विधायक/सांसद अपनी पेन्शन छोड़ यह नही सुनिश्चित कर सकते कि अग्निवीरों को पेंशन मिले?

केंद्र ने 14 जून को भारतीय युवाओं के लिए सशस्त्र बलों में सेवा करने के लिए एक नई अल्पकालिक भर्ती नीति का अनावरण किया । अग्निपथ नाम की यह योजना 17.5 से 21 वर्ष की आयु के युवाओं को चार साल की अवधि के लिए तीन सेवाओं में से किसी एक को ‘अग्निपथ’ के रूप में शामिल करने में सक्षम बनाएगी। प्रत्येक बैच में 25 प्रतिशत अग्निशामकों को सशस्त्र बलों में स्थायी संवर्ग के लिए चुना जाएगा और शेष 75 प्रतिशत को बिना किसी ग्रेच्युटी या पेंशन लाभ के ड्यूटी से मुक्त किया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: