राजनांदगांवछत्तीसगढ़

200 से ज्यादा की भीड़ ने ढाबे पर किया हमला,ढाबा संचालक और उसके भाई पर धारदार हथियार से हमला, हालत गंभीर

राजनांदगांव। जिले में रविवार को 200 से ज्यादा की भीड़ ने एक ढाबे पर हमला कर दिया। जमकर ईंट-पत्थर फेंके गए। वहां रखी कुर्सियां और अन्य सामान तोड़ डाला। उपद्रवियों ने ढाबा संचालक और उसके भाई पर धारदार हथियार से भी वार किया। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, राजनांदगांव-दुर्ग नेशनल हाईवे पर दीपक यादव का ‘हमारा ढाबा’ के नाम से ढाबा संचालित होता है। सुबह करीब 5.30 बजे 15-20 युवक ढाबे पर चाय पीने के लिए पहुंचे थे।

चाय पीने के बाद जब बिल दिया गया तो युवक भड़क गए। ढाबा संचालक से ज्यादा रुपए लेने की बात कहते हुए विवाद शुरू हो गया। ढाबा संचालक दीपक ने बिल सही होने की बात कही। इसके बाद युवक रुपए देकर चले गए और मामला शांत हो गया।

2 घंटे बाद पहुंची 200 लोगों की भीड़

बताया जा रहा है कि करीब डेढ़-दो घंटे बाद 150 से 200 लोगों की भीड़ पहुंची और ढाबे पर हमला कर दिया। इससे पहले कि ढाबा संचालक दीपक और उसका भाई गौरव कुछ समझ पाते भीड़ ने तोड़फोड़ शुरू कर दी।

इतने सारे लोगों को एक साथ देख ढाबे में काम कर रहे कर्मचारियों के होश उड़ गए। वह जान बचाकर वहां से भाग निकले। इस दौरान लोगों ने संचालक दीपक और उसके भाई को पकड़ लिया। दोनों को जमकर पीटा और धारदार हथियार से वार किया।

ढाबे पर स्पेशल फोर्स के जवान तैनात

हमले की सूचना सोमानी थाना पुलिस को काफी देर बाद लगी। इस पर फोर्स को भेजा गया। ढाबे पर स्पेशल फोर्स के जवान तैनात किए गए हैं। बताया जा रहा है कि शहर के नजदीक ही एक धार्मिक आयोजन में लोग शामिल होने के लिए आए थे।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: