Home जिले प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई से कोचियों में हड़कंप, 1600 क्विंटल धान और...

प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई से कोचियों में हड़कंप, 1600 क्विंटल धान और 2000 नग बारदाना किया जब्त

श्याम चौहान@जशपुर। नगर कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के मार्गदर्शन में जशपुर जिले में धान का अवैध कारोबार करने वालों एवं कोचियों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही से हड़कंप मच गया है। बीते 3 दिनों में जिले के अलग-अलग हिस्सों में चल रहे धड़ पकड़ के सघन अभियान का यह नतीजा रहा है कि अभी तक धान […]

प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई से कोचियों में हड़कंप, 1600 क्विंटल धान और 2000 नग बारदाना किया जब्त

श्याम चौहान@जशपुर। नगर कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के मार्गदर्शन में जशपुर जिले में धान का अवैध कारोबार करने वालों एवं कोचियों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही से हड़कंप मच गया है। बीते 3 दिनों में जिले के अलग-अलग हिस्सों में चल रहे धड़ पकड़ के सघन अभियान का यह नतीजा रहा है कि अभी तक धान की हेराफेरी करने वालों को कोचिंयों एवं व्यापारियों के यहां से लगभग 1648 क्विंटल धान अवैध रूप से भंडारित पाए जाने पर जप्त किया गया है। फरसाबहार के सीमावर्ती ग्राम कोनपारा के कोचिया धर्मेंद्र पटेल के यहां से 1500 क्विंटल धान और 2000 नग नया बारदाना पकड़ में आया है। यह बारदाना बीज विकास निगम का है।

कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीसागर ने बताया कि आज शाम बागबाहर में धान का अवैध परिवहन करते हुए पिकअप पकड़ाई है। जिसे थाने में खड़ा कर दिया गया है। इस पिकअप में कहां से और किसका धान लाया जा रहा था। इसकी जांच चल रही है। कलेक्टर ने बताया कि धान के अवैध कारोबारियों और कोचियों के धर-पकड़ का यह अभियान निरंतर जारी रहेगा।

कलेक्टर ने कोनपारा में धर्मेंद्र पटेल के यहां से जब्त 2000 नग बारदाना के मामले में दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की बात कही है। उन्होंने कहा कि धर्मेंद्र पटेल के यहां बीज निगम का 2000 बारदाना कैसे और क्यों पहुंचा। इस मामले की जांच की जा रही है। बीज निगम प्रक्रिया केंद्र के प्रभारी से भी इस मामले में पूछताछ की जाएगी। उन्होंने बताया कि धर्मेंद्र पटेल के खलिहान की भी अधिकारी ने जांच की है। वहां धान की मिजाई के प्रमाण नही मिले है।वहां बहुत ही कम मात्रा में पैरा पाया गया। इससे यह स्पष्ट है कि उसके द्वारा उक्त धान को बाहर से ही अवैध रूप से क्रय कर भंडारित किया गया था। जिसका उद्देश्य धान खरीदी केंद्र में अवैध रूप से समर्थन मूल्य पर विक्रय का लाभार्जन है। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि जिले में समर्थन मूल्य पर धान में किसी भी तरह की गड़बड़ी हरगिज बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अवैध रूप से धान बेचने वाले कोचियों और कारोबारियों को सीधे जेल भेजा जाएगा।

उन्होंने यह भी बताया कि अन्य राज्यों से धान जशपुर में ना आने पाए, इसको लेकर सभी बॉर्डर वाले इलाके में निरंतर निगरानी रखी जा रही है। सीमावर्ती मार्गों पर चेक पोस्ट भी स्थापित किए गए हैं। जशपुर जिले में शुक्रवार को मनोरा में एसडीएम दशरथ राजपूत और नायब तहसीलदार विकास जिंदल ने वहां के साप्ताहिक बाजार में अवैध रूप से धान खरीद रहे व्यवसायी केशव प्रसाद गुप्ता से 38 क्विंटल धान जप्त किया। जशपुर के मंडी परिसर के दुकान में अवैध रूप से भंडारित 85 क्विंटल धान जप्त किया गया है। बगीचा ब्लॉक के बगडोल में राजकुमार गुप्ता की दुकान में अवैध रूप से भंडारित 10 क्विंटल धान जप्त किया गया है। कुनकुरी ब्लाक के ग्राम केराडीह और चटकवाईन के संजय गुप्ता के गोदाम से 8 क्विंटल ,विजय गुप्ता के यहां से 2 क्विंटल तथा संदीप लकड़ा के यहां से 5 क्विंटल धान जप्त कर मंडी अधिनियम के तहत जुर्माने की कार्रवाई की गई है