Home विशेष मदनवाड़ा हमले की 10वीं बरसी आज, 28 जवानों की शहादत को शत्-शत्...

मदनवाड़ा हमले की 10वीं बरसी आज, 28 जवानों की शहादत को शत्-शत् नमन …

देबाशीष बिस्वास@कांकेर. दस साल पहले आज ही के दिन 12 जुलाई 2009 को मदनवाड़ा के कोरकुट्टी में भीषण नक्सली हमले में छत्तीसगढ़ पुलिस के 29 जवान शहीद हो गए थे। नक्सलियों ने घातक बारूदी सुरंग विस्फोट कर जवानों को घेरा था राजनांदगांव जिले में मानपुर के मदनवाड़ा में नक्सलियों ने दो जवानों को गोली मार […]

135
madanwada attack

देबाशीष बिस्वास@कांकेर. दस साल पहले आज ही के दिन 12 जुलाई 2009 को मदनवाड़ा के कोरकुट्टी में भीषण नक्सली हमले में छत्तीसगढ़ पुलिस के 29 जवान शहीद हो गए थे।

नक्सलियों ने घातक बारूदी सुरंग विस्फोट कर जवानों को घेरा था राजनांदगांव जिले में मानपुर के मदनवाड़ा में नक्सलियों ने दो जवानों को गोली मार दी थी जो पखांजूर से लगभग 50 किलोमीटर दूर स्थित है एवं कांकेर जिले से लगा हुआ है।

सूचना पर राजनांदगांव जिले के तात्कालीन एसपी वी. के. चौबे जवानों को साथ लेकर तत्काल मौके के लिए रवाना हुए थे, लेकिन उनके पहुंचने से पहले ही कोरकोट्‌टी में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग विस्फोट किया। इससे गाड़ी अनियंत्रित हो गई और मौका देख कर करीब तीन सौ की संख्या में नक्सलियों ने सड़क की दोनों दिशाओं से अंधाधुंध गोलियां बरसानी शुरू कर दी थी। एसपी वी. के. चौबे सहित 29 जवान हमले में शहीद हो गए थे।

बताया जाता है कि 2009 की उस रोज को पूरे महीने के बाद बादल बरसे थे। प्रदेश में मातम का माहौल बन गया था। हालांकि इस घटना के बाद भी नक्सल उन्नमूलन के सरकारी प्रयास नाकाफी रहे जिसके बाद माओवादियों ने  2010 में ताडमेटला, 2013 में दरभा, 2014 में सुकमा, 2017 बुर्कापाल और 2018 में किस्टाराम जैसे बड़े हमले  किये।   आज भी बस्तर सहित देश के 6 राज्यों के 40 जिलों में नक्सल समस्या विकराल रूप से व्याप्त। जहां से आये दिन मुठभेड़ और शहादत की खबरें आती रहती है।