Home देश - विदेश मुजफफरपुर शेल्टर होम केस: दिल्ली की साकेत कोर्ट ने ब्रजेश ठाकुर की...

मुजफफरपुर शेल्टर होम केस: दिल्ली की साकेत कोर्ट ने ब्रजेश ठाकुर की सुनाई सजा, अब ताउम्र जेल की सलाखों के पीछे कटेगी जिंदगी

नई दिल्ली। बिहार के बहुचर्चित मुजफफरपुर शेल्टर होम केस में दिल्ली की साकेत कोर्ट ब्रजेश ठाकुर को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अब ताऊमं आरोपी ब्रजेश ठाकुर की जिंदगी जेल की चार दीवारों के भीतर कटेगी। ये मामला मुंबई की टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंस की रिपोर्ट के बाद सामने आया था। कोर्ट में दोषियों […]

मुजफफरपुर शेल्टर होम केस: दिल्ली की साकेत कोर्ट ने ब्रजेश ठाकुर की सुनाई सजा, अब जेल में कटेगी पूरी जिंदगी…

नई दिल्ली। बिहार के बहुचर्चित मुजफफरपुर शेल्टर होम केस में दिल्ली की साकेत कोर्ट ब्रजेश ठाकुर को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अब ताऊमं आरोपी ब्रजेश ठाकुर की जिंदगी जेल की चार दीवारों के भीतर कटेगी। ये मामला मुंबई की टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंस की रिपोर्ट के बाद सामने आया था। कोर्ट में दोषियों को बारी-बारी से सजा सुनाई गई। ब्रजेश समेत सभी दोषियों के करीबी व वकील कोर्ट में मौजूद थे।

इस मामले में साकेत कोर्ट ने ब्रजेश ठाकुर समेत 21 आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो, बलात्कार, आपराधिक साजिश और अन्य धाराओं में आरोप तय किया था। सीबीआई ने इस मामले में ब्रजेश ठाकुर को मुख्य आरोपी बनाया था।

ब्रजेश ठाकुर समेत 4 को चार्जशीट की सभी मूल धाराओं के अलावा गैंगरेप की धारा में सजा सुनाई जा रही है। गैंगरेप की धारा में उम्र कैद का प्रावधान है। मधु का रिश्तेदार विक्की सभी आरोपों से बरी हुआ है, जबकि जिला बाल संरक्षण इकाई की तत्कालीन सहायक निदेशक रोजी रानी को जेजे एक्ट की धारा 75 के तहत दोषी पाते हुए उन्हें बॉन्ड पर मुक्त कर दिया गया था।

किशोरियों से दुष्कर्म के षड्यंत्र में शामिल बालिका गृह की महिला कर्मचारियों को दोषी पाया गया है। इसके लिए धारा 120 बी के तहत कानून में दुष्कर्म के बराबर ही सजा का प्रावधान है।