Home राजनीति आदिवासी नृत्य समारोह पर मंत्री अमरजीत भगत केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह को...

आदिवासी नृत्य समारोह पर मंत्री अमरजीत भगत केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह को मादर ढोल बजाकर नचाएंगे, बढ़ा तनाव

रायपुर। संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत की एक बयान की ख़ूब चर्चा हो रही है। अंतर्रष्ट्रीय आदिवासी नृत्य समारोह में आदिवासी मामलों की केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह को समारोह का नेवता नहीं देने पर अमरजीत भगत ने एक बयान में कहा है कि “जब देश भर के कला संस्कृति और नेताओं को बुलाया गया है […]

{"effects_tried":0,"photos_added":0,"origin":"unknown","total_effects_actions":0,"remix_data":["add_photo_directory"],"tools_used":{"tilt_shift":0,"resize":0,"adjust":0,"curves":0,"motion":0,"perspective":0,"clone":0,"crop":1,"enhance":0,"selection":0,"free_crop":0,"flip_rotate":0,"shape_crop":0,"stretch":0},"total_draw_actions":0,"total_editor_actions":{"border":0,"frame":0,"mask":0,"lensflare":0,"clipart":0,"text":0,"square_fit":0,"shape_mask":0,"callout":0},"source_sid":"7B896484-BCCA-4190-A2A7-C021399E6B6E_1576684305106","total_editor_time":105,"total_draw_time":0,"effects_applied":0,"uid":"7B896484-BCCA-4190-A2A7-C021399E6B6E_1576684304942","total_effects_time":0,"brushes_used":0,"height":422,"layers_used":0,"width":750,"subsource":"done_button"}

रायपुर। संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत की एक बयान की ख़ूब चर्चा हो रही है। अंतर्रष्ट्रीय आदिवासी नृत्य समारोह में आदिवासी मामलों की केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह को समारोह का नेवता नहीं देने पर अमरजीत भगत ने एक बयान में कहा है कि “जब देश भर के कला संस्कृति और नेताओं को बुलाया गया है तो रेणुका सिंह को भी नहीं छोड़ेंगे, रेणुका सिंह को नचाएँगे और हम माँदर ( ढोल ) बजाएँगे”

इस पर केंद्रीय मंत्री ने जवाब देते हुए कहा है कि “ अमरजीत मेरा छोटा भाई है.. अच्छा लड़का था .. पता नहीं कैसे संस्कार भूल गया है.. जल्द समझाउंगी”
केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने इसके ठीक बाद कबीर दास की यह पंक्ति कही –
“शब्द संभाल के बोलिये, शब्द के हाँथ न पाँव रे
एक शब्द औषद करे, एक शब्द करे घाव रे”

दरअसल मंत्री अमरजीत भगत ने यह बयान रेणुका सिंह के तंज भरे एक बयान को लेकर दिया है। मंत्री रेणुका सिंह ने आदिवासी नृत्य समारोह को लेकर कहा था कि राज्य सरकार के मंत्री घूम घूम कर विभिन्न प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों को आमंत्रित कर रहे हैं,लेकिन उन्हें आदिवासी मंत्रालय की केंद्रीय राज्यमंत्री होने के बावजूद कोई निमंत्रण नहीं है।